षडानन शब्द के रूप – Shadanan Ke Roop, Shabd Roop – Sanskrit

Shadanan Shabd

षडानन शब्द : अकारांत पुंल्लिंग शब्द , इस प्रकार के सभी अकारांत पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। संस्कृत व्याकरण एवं भाषा में शब्द रूप अति महत्व रखते हैं। और धातु रूप (Dhatu Roop) भी बहुत ही आवश्यक होते हैं।

षडानन के शब्द रूप इस प्रकार हैं-

षडानन के शब्द रूप – Shadanan Shabd Roop

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा षडाननः षडाननौ षडाननाः
द्वितीया षडाननम् षडाननौ षडाननान्
तृतीया षडाननेन षडाननाभ्याम् षडाननैः
चतुर्थी षडाननाय षडाननाभ्याम् षडाननेभ्यः
पंचमी षडाननात् षडाननाभ्याम् षडाननेभ्यः
षष्ठी षडाननस्य षडाननयोः षडाननानाम्
सप्तमी षडानने षडाननयोः षडाननेषु
सम्बोधन हे षडानन ! हे षडाननौ ! हे षडाननाः !

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

महत्वपूर्ण शब्द रूप की Shabd Roop List देखें और साथ में shabd roop yad karane ki trick भी, सभी शब्द रूप संस्कृत में।

Shabd roop of Shadanan -Image

Shadanan Shabd Roop

You may like these posts

तादृश् शब्द के रूप – Tadrash Ke Shabd Roop – Sanskrit

Tadrash Shabd तादृश् शब्द (उसके समान, वैसा): तादृश् शब्द के शकारान्त शब्द के शब्द रूप, तादृश् (Tadrash) शब्द के अंत में “श्” का प्रयोग हुआ इसलिए यह शकारान्त हैं। अतः...Read more !

स्थितवत् (स्थितवान्) शब्द के रूप (Sthitavat Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Sthitavat Shabd स्थितवत् शब्द (स्थितवान्, Situation): स्थितवत् शब्द के तकारांत डवतु प्रत्ययान्त पुल्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, स्थितवत् (Sthitavat) शब्द के अंत में “त्” का प्रयोग हुआ इसलिए यह तकारांत...Read more !

भृस्ज् शब्द के रूप (Bhrasj Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Bhrasj Shabd भृस्ज् शब्द (भृट, भृड): भृस्ज् शब्द के जकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, भृस्ज् (Bhrasj) शब्द के अंत में ‘ज्’ की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह जकारान्त...Read more !