अस्मद् (मैं, हम लोग) शब्द के रूप – Main, Asmad Ke Roop – Sanskrit

अस्मद् शब्द

अस्मद् शब्द (I, मैं, हम लोग): अस्मद् सर्वनाम, अस्मद् सर्वनाम के तीनों लिंगो में रूप एकसमान होते हैं। इदमादि इदम् , अस्मद् , युष्मद् , अदस् शब्दो के रूप मे भेद होने के कारण अलग अलग लिखे जाते है। सर्वनाम का सम्बोधन नहीं होता है।

अस्मद् के रूप – Main/Asmad Ke Shabd Roop

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा अहम् आवाम् वयम्
द्वितीया माम् आवाम् अस्मान्
तृतीया मया आवाभ्याम् अस्माभिः
चतुर्थी मह्यम् आवाभ्याम् अस्मभ्यम्
पंचमी मत् आवाभ्याम् अस्मत्
षष्ठी मम आवयोः अस्माकम्
सप्तमी मयि आवयोः अस्मासु

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

Shabd roop of Asmad Sarvanam

Main, Asmad Shabd Roop - Sanskrit

You may like these posts

गो/गौ शब्द के रूप – Go/Gau shabd ke roop – Sanskrit

गो/गौ शब्द के रूप गो/गौ शब्द (बैल/इंद्रिया/किरण/सूर्य): ओकारांत पुल्लिंग /स्त्रीलिंग संज्ञा, गो शब्द का रूप स्त्रीलिंग एवं पुल्लिंग दोनों समान होते हैं। पुल्लिंग में गो का अर्थ है- बैल, सूर्य,...Read more !

दृश् शब्द के रूप – Drash Shabd Roop – संस्कृत

Drash Shabd दृश् शब्द (देखना, दर्शन, प्रदर्शक, दिखानेवाला, देखनेवाला, दृश): दृश् शब्द के शकारान्त स्त्रीलिङ्ग शब्द के शब्द रूप, दृश् (Drash) शब्द के अंत में ‘श्’ की मात्रा का प्रयोग...Read more !

वीरसू शब्द के रूप – Virsu Ke Shabd Roop – Sanskrit

Virsu Shabd वीरसू शब्द (वीरों को जन्म देने वाली माता- वीर-माता, वीर-जननी): वीरसू शब्द के ऊकारान्त स्त्रील्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, वीरसू (Virsu) शब्द के अंत में “ऊ” की मात्रा...Read more !