तद् (वह, That) पुल्लिंग शब्द के रूप – Vah, Tad Pulling ke roop – Sanskrit

तद् पुल्लिंग शब्द के रूप

तद् पुल्लिंग शब्द (That, वह): तद् (वह) पुल्लिंग सर्वनाम, यदादि यद्, तद्, एतद्, किम् – इन शब्दों का क्रमशः य: , स: , एष: , स्य: , क: होता है। और सर्व्वादि के तुल्य रूप होते हैं। नपुंसकलिंग में प्रथमा और द्वतीया के एकवचन में यत् , तत् , एतत् , त्यत् , किम् होता है। स्त्रीलिंग में इन शब्दों का रूप या , सा , एषा , स्या, का, होता है। सर्वनाम का सम्बोधन नहीं होता है।

तद् पुल्लिंग के रूप – Vah/Tad ke Shabd Roop (Pulling)

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा सः तौ ते
द्वितीया तम् तौ तान्
तृतीया तेन ताभ्याम् तैः
चतुर्थी तस्मै ताभ्याम् तेभ्यः
पंचमी तस्मात् ताभ्याम् तेभ्यः
षष्ठी तस्य तयोः तेषाम्
सप्तमी तस्मिन् तयोः तेषु

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

Shabd roop of Tad Pulling

 Vah, Tad Pulling ke roop - Sanskrit Shabd Roop

You may like these posts

मन्त्रिन् (मंत्री) शब्द के रूप (Mantrin Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Mantrin Shabd मन्त्रिन् शब्द (मंत्री, परामर्श देनेवाला, सलाह देनेवाला): मन्त्रिन् शब्द के नकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, मन्त्रिन् (Mantrin) शब्द के अंत में “न्” का प्रयोग हुआ इसलिए यह...Read more !

प्रथम शब्द के रूप (Pratham Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Pratham Shabd प्रथम शब्द (First, पहला): प्रथम शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, प्रथम (Pratham) शब्द के अंत में “अ” का प्रयोग हुआ इसलिए यह अकारान्त हैं। अतः...Read more !

सूचि शब्द के रूप – Soochi Ke Shabd Roop – Sanskrit

Soochi Shabd सूचि शब्द (list, Index): सूचि शब्द के इकारांत पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, अर्थात सूचि (Soochi) शब्द के अंत में “इ” की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह...Read more !