सिन्धी भाषा में साहित्य अकादमी के पुरस्कार विजेता

Sindhi Sahitya Akademi Award
First Winner of Sindhi Sahitya Akademi Award – Tirth Basant

साहित्य अकादमी ने सिन्धी भाषा में सर्वप्रथम 1959 ई. में “तीर्थ वसंत” को ‘कँवर (जीवनी)’ के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार दिया था। तीर्थ वसंत सिन्धी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। सिंधी भाषा एक इंडो-आर्यन भाषा परिवार की भाषा है, जिसमें संस्कृत भाषा समेत हिन्दी, पंजाबी और गुजराती आदि कई भाषाएँ शामिल हैं। यह मुख्य रूप से पाकिस्तान के सिंध प्रांत में सिंधी लोगों द्वारा बोली जाती है। सिंधी भाषा को पाकिस्तान में एक आधिकारिक भाषा के रूप में मान्यता दी गई है।

भारत की राजधानी दिल्ली में स्थापित साहित्य अकादमी द्वारा प्रतिवर्ष साहित्य के क्षेत्र में पाँच प्रकार के पुरस्कार “साहित्य अकादमी पुरस्कार, अनुवाद पुरस्कार, बाल साहित्य पुरस्कार, युवा पुरस्कार और भाषा सम्मान पुरस्कार” वितरित किए जाते हैं। इनमें से प्रथम चार पुरस्कार साहित्य अकादमी अपने द्वारा मान्यता प्रदत्त 24 भाषाओं (अंग्रेज़ी, असमिया, उर्दू, ओड़िया, कन्नड़, कश्मीरी, कोंकणी, गुजराती, डोगरी, तमिल, तेलुगू, नेपाली, पंजाबी, बंगाली, बोड़ो, मणिपुरी, मराठी, मलयालम, मैथिली, राजस्थानी, संथाली, सिन्धीसंस्कृत भाषा और हिन्दी भाषा) में से प्रत्येक में प्रकाशित सर्वोत्कृष्ट साहित्यिक कृति को पुरस्कार प्रदान करती है। जबकि “भाषा सम्मान” अन्य भाषाओं की रचनाओं को भी दिया जाता है। इनमें से 22 भाषाएं (अंग्रेजी और राजस्थानी को छोड़कर) भारत की संवैधानिक भाषाएं हैं।

वर्तमान में ‘साहित्य अकादमी पुरस्कार’ और ‘भाषा सम्मान पुरस्कार’ के अंतर्गत सम्मान स्वरूप एक लाख (1,00,000) भारतीय रुपये दिए जाते हैं। एवं अन्य पुरस्कारों में सम्मान राशि पचास हजार (50,000) रुपये है।

साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता

सिन्धी भाषा में दिए गए साहित्य अकादमी पुरस्कारों की सूची निम्नलिखित है:-

वर्षपुस्‍तकलेखक
2022सिंधी साहित जो मुख़्तसर इतिहास (संक्षिप्त सिंधी साहित्य इतिहास)कन्हैयालाल लेखवाणी
2021नेना निंदाखरा (कविता-संग्रह)अर्जुन चावला
2020जेहाद (नाटक)जेठो लालवानी
2019जीजल (कहानी संग्रह)ईश्वर मूरजाणी
2018जिया में तांदा (कविता-संग्रह)खीमान यू. मूलाणी
2017आछेन्द लज मरान (निबंध-संग्रह)जगदीश लछाणी
2016आखर कथा (कविता)नन्‍द जावेरी
2015मँहगी मुर्क (कहानी)माया राही
2014सिजा अज्ञान बुकु (कविता)गोपे कमल
2013मंश-नगरी (कविता-संग्रह)नामदेव ताराचंदाणी
2012मिटीअ खां मिट्टीअ तार्इं (कहानी–संग्रह)*इंदरा वासवाणी
2011…त ख्वाबनि जो छा थींदो (नाट्य–संकलन)मोहन गेहाणी
2010अञा याद आहे (ग़ज़ल–संग्रह)लक्ष्मण दुबे
2009रिश्तन जी सियासत (कहानी–संग्रह)आनंद खेमानी
2008सृजन जो संकट ऐं सिन्धी कहाणी (समालोचना)हीरो शेवकाणी
2007विजूं वसण आयूं (एकांकी–संग्रह)वासुदेव ‘निर्मल’
2006धर्ती–अ–जो–साद (नाटक)कीरत बाबाणी
2005अँधेरो रोशन थिये (कविता–संग्रह)ढोलण ‘राही’
2004कविता खाँ कविता तार्इं (समालोचना)सतीश रोहरा
2003तहक़ीक़ एन तनक़ीद (निबंध)हीरो ठाकुर
2002उदामंदड़ अरमान (कहानी–संग्रह)हरि हिमथानी
2001भगत (कविता–संग्रह)प्रेम प्रकाश
2000तक तोर (समालोचना)परम ए. अबीचंदाणी
1999बर्फ जो ठहेयलु (कविता–संग्रह)वासदेव मोही
1998ज़लज़लों (नाटक)श्याम जयसिंघाणी
1997टांडाणा (अंधेरी रात में) (कविता–संग्रह)ईश्वर आँचल
1996गुफ़ा जे हुन पार (कहानी–संग्रह)लखमी खिलाणी
1995आझो (उपन्यास)हरि मोटवाणी
1994आरसी–आ–आडो (उपन्यास)कला प्रकाश
1993हठयोगी (उपन्यास)तारा मीरचंदाणी
1991सोच जूं सूरतूं (कविता–संकलन)हरिकान्त जेठवाणी
1990शीशे–जा घर (कविता–संकलन)गोवर्धन महबूबाणी ‘भारती’
1989बाहि जा वारिस (ग़ज़ल–संग्रह)एम. कमल
1988से सभ सांध्यम साह सें (यात्रा–वृत्तांत)मोती प्रकाश
1987चालीह–चोरासी (समालोचना)हरीश वासवाणी
1986विछोरो (कहानी–संग्रह)सुंदरी ए. उत्तमचंदाणी
1985मेरो सिज (कविता–संग्रह)अर्जन ‘हासिद’
1984उहा शाम (कहानी–संग्रह)मोहन कल्पना
1983अंधो दूहों (कविता–संग्रह)अर्जन मीरचंदाणी ‘शाद’
1982मुहीजी हयाती–आ–जा सोना रोपा वर्क (आत्मकथा)पोपटी आर. हीरानंदाणी
1981सुर्ख गुलाब सुरहा ख़्वाब (कविता–संग्रह)प्रभु ‘वफ़ा’
1980याद हिक प्यार जी (उपन्यास)कृशिन खटवाणी
1979पल पल जो परलाओ (कविता–संग्रह)हरि दरयाणी ‘दिलगीर’
1978चीख़ (कविता–संग्रह)एच. आई. सदारंगाणी
1976जी–आ–झरोको (कविता–संग्रह)लक्ष्मण भाटिया ‘कोमल’
1974हुनजे आतम जो मौत (उपन्यास)लाल पुष्प
1973प्यार जी प्यास (उपन्यास)गोविन्द माल्ही
1972अपराजित (कहानी–संग्रह)गुणो सामताणी
1971कुमाच (कविता–संग्रह)कृशिन राही
1970वारी–अ–भर्यो पलांदु (कविता–संग्रह)नारायण श्याम
1969सिन्धी नस्र जी तारीख़ (सिन्धी गद्य का इतिहास)एम. यू. मलकाणी
1968शाह जो रिसालो मुजामिल (मूल्यांकन)कल्याण बी– आडवाणी
1966सुराही (कविता–संग्रह)लेखराज किशनचंद ‘अज़ीज़’
1964अनोखा अज़मूदा (संस्मरण)राम पंजवाणी
1959कँवर (जीवनी)तीर्थ वसंत

अनुवाद पुरस्कार विजेता

साहित्य अकादमी ने 1989 से अनुवाद के लिए नया पुरस्कार शुरू किया। इस पुरस्कार के सिन्धी भाषा के विजेता निम्नलिखित हैं:-

वर्षअनुवाद का शीर्षकअनुवादमूल कृति का शीर्षक (भाषा/विधा)लेखक
2022किल्लियूँ ते टंग्याल शख्सभगवान अटलानीखूँटियों पर टँगे लोग, (कविता-संग्रह), हिंदीसर्वेश्वर दयाल सक्सेना
2021अजु-सुबहाने-परहीनमीना रूपचंदाणीआज-कल-परसों (कहानी), हिंदीराजमोहन झा
2020उहा लंबी ख़ामोशीसंध्या कुंदनाणीदैट लांग साइलेंस (उपन्यास), अंग्रेज़ीशशि देशपांडे
2019मीठो पानी खारो पानीढोलन राहीमीठा पानी खारा पानी (उपन्यास), हिंदीजया जादवानी
2018मनजोगीजगदीश लछाणीमनजोगी (उपन्‍यास), हिंदीप्रबोध कुमार गोविल
2017सरहद तानअर्जुन चावलासरहद से (हिंदी कविता)मनोहर बाथम
2016भरत नाट्य शास्‍त्रमोहन गेहाणीभरत नाट्य शास्‍त्र (अंग्रेज़ी साहित्यिक आलोचना)कपिला वात्‍स्‍यायन
2015लल दद्यसरिता शर्मालल दद्य (डोगरी उपन्‍यास)वेद राही
2014मरू तीर्थ हिंगलाजराम कुकरेजामरू तीर्थ हिंगलाज (बांग्‍ला यात्रा-वृत्‍तांत)अवधूत
2013डॉ. अम्‍बेडकर हिक प्रेरणादायी शख्सियतखीमाण यू. मुलाणीडॉ. अम्‍बेडकर (हिंदी निबंध-संग्रह)रतनकुमार सांभरिया
2012कृशिनचंदर जूं चूंड नंदियूं कहाणियूंहीरो ठाकुरसिलेक्टेड शॉर्ट स्टोरीज़ ऑफ़ कृश्न चंदर (अंग्रेज़ी कहानी–संग्रह)कृश्न चंदर
2011शादी ता करीजेठो लालवाणीटाड़े टाड़े तो घोटाड़े (गुजराती नाटक)दामु सांगनी
2010कार्मेलीनपारू चावलाकार्मेलीन (कोंकणी उपन्यास)दामोदर मावजो
2009श्रीराधाझम्मूं छुगाणीश्रीराधा (ओड़िया कविता–संग्रह)रमाकांत रथ
2008कबीर वचनावलिकमला गोकलानीकबीर ग्रंथावली (हिन्दी संकलन)बाबू श्यामसुंदर दास
2007अग्निसाक्षीविशू बेलाणीअग्निसाक्षी (मलयाळम् उपन्यास)एन. ललिताम्बिका अंतर्जनम
2005मीरा याज्ञिक जी डायरीहूंदराज बलवाणीमीरा याज्ञिक नी डायरी (गुजराती उपन्यास)बिन्दु भट्ट
2004सिन्धु कन्यायशोधरा वाधवाणीसिन्धु कन्या (संस्कृत ऐतिहासिक उपन्यास)श्रीनाथ एस. हसूरकर
2003तमसकृष्ण राहीतमस (हिन्दी उपन्यास)भीष्म साहनी
2001आखार जो हिक दिहूकृशिन खटवाणीआषाढ़ का एक दिन (हिन्दी नाटक)मोहन राकेश
1999फ़न–ए–तहक़ीक़ ऐं उनजा उसूलबलदेव मतलाणीफ़ने तहक़ीक़ (उर्दू निबंध–संग्रह)ए. सत्तार दलवी
1998असमयलखमी खिलाणीअसमय (बाङ्ला उपन्यास)विमल कर
1997सिन्धी अदब जी तारीखहीरो शेवकाणीहिस्ट्री ऑफ़ सिन्धी लिटरेचर (अंग्रेज़ी साहित्येतिहास)लालसिंह एच. अजवाणी
1996पन छण जो परलाउलक्ष्मण भाटिया ‘कोमल’पतझड़ की आवाज़ (उर्दू कहानी–संग्रह)क़ुर्रतुल–ऐन–हैदर
1995चानीश्याम जयसिंघाणीचानी (मराठी उपन्यास)सी.टी. खानोलकर
1992युग जो अंतूलक्ष्मण हर्दवाणीयुगांत (मराठी महाकाव्य)इरावती कर्वे
1991चूंड मराठी कहाणियूँवासुदेव ‘निर्मल’मराठी लघु कथा–संग्रह (मराठी कहानी–संग्रह)संपा. ए.के. भागवत
1990सत कदम (दो खंडों में)बिहारीलाल हरिराम छाबरियासप्तपदी (बाङ्ला उपन्यास)ताराशंकर बंद्योपाध्याय
1989रोलाक जी आतम कहाणीजगत अस्सुदोमल आडवाणीकुणा एकाची भ्रमणगाथा (मराठी उपन्यास)जी.एन. दांडेकर

बाल साहित्य पुरस्कार विजेता

साहित्य अकादमी ने 2010 से बाल साहित्य के लिए नया पुरस्कार शुरू किया। इस पुरस्कार के सिन्धी भाषा के विजेता निम्नलिखित हैं:-

वर्षपुस्‍तकलेखक
2022अनोखियुन आखानीयुन (कहानी-संग्रह)मनोहर निहलानी
2021बार मन थार (कविता-संग्रह)किशन खुबचंदानी ‘रंजयाल’
2020मुंडी केर पाए? (नाटक)साहिब बिजाणी
2019समग्र योगदानवीना शृंगी
2018सुहिनी दायं (कहानी)कल्पना अशोक चेल्लानी
2017रोशन बरन बोल (कविता)रोशन गोलानी
2016बाल साहित्‍य में समग्र योगदान हेतुदयाल आशा
2015बाल साहित्य के क्षेत्र में समग्र योगदान हेतुजेठो लालवानी
2014बाल साहित्य के क्षेत्र में समग्र योगदान हेतुवासदेव ‘सिन्‍धु भारती’
2013मूंखे चार पुछ ड़े! (कहानी–संग्रह)वासुदेव ‘निर्मल’
2012रोशन राह (कहानी–संग्रह)जगदीश लछाणी
2011नओं निरालो जंगल (उपन्यास)हूंदराज बलवाणी
2010सुहिणा गुलिड़ा बार (कविता–संग्रह)खीमन यू. मूलाणी

युवा पुरस्कार विजेता

साहित्य अकादमी ने 2011 से युवा लेखकों के लिए नया पुरस्कार शुरू किया। इस पुरस्कार के सिन्धी भाषा के विजेता निम्नलिखित हैं:-

वर्षपुस्‍तकलेखक
2022सिंधियत जी सुरहाणि (कविता-संग्रह)हिना आसवाणी
2021जिंदगिया जा रंग (नाटक)राकेश शेवाणी
2020काश (कहानी)कोमल जगदीश दयालाणी
2019अनमोल रिश्ते (कविता)किरन परयाणी ‘अनमोल’
2018सबला नारी (नाटक)चम्‍पा चेतनाणी
2017उसाट (कविता-संग्रह)रेखा सचदेव पोहाणी
2016रेतीलो चिटु (कविता)भारती सदारंगाणी
2015पिंजड़ा (कविता)मनोज चावला ‘तन्‍हा’

भाषा सम्मान पुरस्कार विजेता

प्रथम भाषा सम्मान वर्ष 1996 में प्रदान किया गया, जिनमें श्री धरीक्षण मिश्र (भोजपुरी), श्री बंशी राम शर्मा और श्री एम. आर. ठाकुर (हिमाचली), श्री के. जतप्पा राय और श्री मंदार केशव भट्ट (तुलु) के लिए तथा श्री चंद्रकांत मुरा सिंह (काकबरोक) को अपनी-अपनी भाषाओं के विकास में योगदान के लिए सम्मानित किया गया। पूर्ण जानकारी और लिस्ट के लिए देंखें – भाषा सम्मान पुरस्कार