सिंह / शेर शब्द के रूप – Sher / Singh Ke Roop – Sanskrit

Sher / Singh Shabd

सिंह / शेर शब्द (Lion, King of the cattles): अकारांत पुंल्लिंग शब्द , इस प्रकार के सभी अकारांत पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। संस्कृत व्याकरण एवं भाषा में शब्द रूप अति महत्व रखते हैं। और धातु रूप (Dhatu Roop) भी बहुत ही आवश्यक होते हैं।

सिंह / शेर के शब्द रूप इस प्रकार हैं-

सिंह / शेर के शब्द रूप – Sher / Singh Shabd Roop

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा सिंहः सिंहौ सिंहाः
द्वितीया सिंहम् सिंहौ सिंहान्
तृतीया सिंहेण सिंहाभ्याम् सिंहैः
चतुर्थी सिंहाय सिंहाभ्याम् सिंहेभ्यः
पंचमी सिंहात् सिंहाभ्याम् सिंहेभ्यः
षष्ठी सिंहस्य सिंहयोः सिंहाणाम्
सप्तमी सिंहे सिंहयोः सिंहेषु
सम्बोधन हे सिंह ! हे सिंहौ ! हे सिंहाः !

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

महत्वपूर्ण शब्द रूप की Shabd Roop List देखें और साथ में shabd roop yad karane ki trick भी, सभी शब्द रूप संस्कृत में।

Shabd roop of Sher / Singh -Image

Sher / Singh Shabd Roop

Related Posts

चरम शब्द के रूप (Charam Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Charam Shabd चरम शब्द (अतिम, हद दर्ज का, सबसे बढ़ा हुआ, चोटी का, पराकाष्ठा): चरम शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, चरम (Charam) शब्द के अंत में “अ”...Read more !

वस्त्र शब्द के रूप (Vastr Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Vastr Shabd वस्त्र शब्द (clothe, वस्त्र, वसन, पोशाक, कपड़ा,): वस्त्र शब्द के अकारान्त नपुंसकलिंग शब्द के शब्द रूप, वस्त्र (Vastr) शब्द के अंत में ‘अ’ का प्रयोग हुआ इसलिए यह...Read more !

अतिचमू शब्द के रूप (Atichamu Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Atichamu Shabd अतिचमू शब्द (सेनाओं का विजेता): अतिचमू शब्द के ऊकारान्त स्त्रीलिङ्ग शब्द के शब्द रूप, अतिचमू (Atichamu) शब्द के अंत में ‘ऊ’ की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह...Read more !

पति शब्द के रूप – Pati Ke Roop – Sanskrit (संस्कृत)

पति शब्द के रूप पति शब्द (स्वामी): इकारांत पुल्लिंग संज्ञा, सभी इकारांत पुल्लिंग संज्ञापदों के रूप इसी प्रकार बनाते है जैसे – कवि, हरि, ऋषि, यति, विधि, जलधि, गिरि, रवि,...Read more !

वातप्रमी शब्द के रूप (Vataprami Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Vataprami Shabd वातप्रमी शब्द (मृग, हिरन; नकुल, नेवला; घोड़ा): वातप्रमी शब्द के ईकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, वातप्रमी (Vataprami) शब्द के अंत में ‘ई’ की मात्रा का प्रयोग हुआ...Read more !