छोटा/लघु स्त्रीलिंग शब्द के रूप – Chhota/Laghu Striling ke roop – Sanskrit

Chhota / Laghu Shabd

छोटा शब्द (Small): आकारान्त स्त्रीलिंग विशेषण शब्द, सभी आकारान्त स्त्रीलिंग विशेषण शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है।

छोटा स्त्रीलिंग के रूप – Chhota/Laghu Shabd Roop

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा लघुः/लघ्वी लघू/लघ्व्यौ लघवः/लघ्व्यः
द्वितीया लघुम्/लघ्वीम् लघू/लघ्व्यौ लघूः/लघ्वीः
तृतीया लघ्वा/लघ्व्या लघुभ्याम्/लघ्वीभ्याम् लघुभिः/लघ्वीभिः
चतुर्थी लघ्वै/लघ्वे/लघ्व्यै लघुभ्याम्/लघ्वीभ्याम् लघुभ्यः/लघ्वीभ्यः
पंचमी लघ्वाः/लघोः/लघ्व्यै लघुभ्याम्/लघ्वीभ्याम् लघुभ्यः/लघ्वीभ्यः
षष्ठी लघ्वाः/लघोः/लघ्व्यः लघ्वोः/लघ्व्योः लघूनाम्/लघ्वीनाम्
सप्तमी लघ्वाम्/लघौ/लघ्व्याम् लघ्वोः/लघ्व्योः लघुषु/लघ्वीषु
सम्बोधन हे लघो/हे लघ्वि ! हे लघू/हे लघ्व्यौ ! हे लघवः/हे लघ्व्यः !

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

Shabd roop of Chhota/Laghu Striling

Chhota/Laghu Shabd Roop

Related Posts

वृक्ष शब्द के रूप – Vraksh ke roop – संस्कृत

व्रक्ष् शब्द वृक्ष शब्द : अकारांत पुल्लिंग संज्ञा , सभी पुल्लिंग संज्ञाओ के रूप इसी प्रकार बनाते है जैसे -देव, बालक, राम, वृक्ष, सूर्य, सुर, असुर, मानव, अश्व, गज, ब्राह्मण, क्षत्रिय, शूद्र,...Read more !

ऋपु शब्द के रूप – Ripu Ke Shabd Roop – Sanskrit

Ripu Shabd ऋपु शब्द (वह जिससे शत्रुता या वैर हो): ऋपु शब्द के उकारांत पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, ऋपु (Ripu) शब्द के अंत में “उ” की मात्रा का प्रयोग...Read more !

ज्ञातवत् (ज्ञातवान्) शब्द के रूप (Gyaatavat Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Gyaatavat Shabd ज्ञातवत् शब्द (ज्ञातवान्, Knowingly, जाना हुआ): ज्ञातवत् शब्द के तकारांत डवतु प्रत्ययान्त पुल्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, ज्ञातवत् (Gyaatavat) शब्द के अंत में “त्” का प्रयोग हुआ इसलिए...Read more !

भोगवती शब्द के रूप – Bhogvati Ke Shabd Roop – Sanskrit

Bhogvati Shabd भोगवती शब्द ( गंगा की वह धारा जिसके बारे में किंवदंती है कि वह पाताल में बहती है): भोगवती शब्द के ईकारान्त स्त्रील्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, भोगवती...Read more !

भगवत् शब्द के रूप (Bhagavat Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Bhagavat Shabd भगवत् शब्द (ईश्वर, परमेश्वर, विष्णु, शिव, बुद्ध, कार्तिकेय, सूर्य): भगवत् शब्द के तकारान्त पुल्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, भगवत् (Bhagavat) शब्द के अंत में ‘त’ की मात्रा का...Read more !