वर्मन् (वर्म) शब्द के रूप (Varman Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Varman Shabd

वर्मन् शब्द (कवच, बकतर, घर, आश्रय, वर्म): वर्मन् शब्द के नकारान्त नपुंसकलिंग शब्द के शब्द रूप, वर्मन् (Varman) शब्द के अंत में ‘न्’ की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह नकारान्त हैं। अतः Varman Shabd के Shabd Roop की तरह वर्मन् जैसे सभी नकारान्त नपुंसकलिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। वर्मन् शब्द के शब्द रूप संस्कृत में सभी विभक्तियों एवं तीनों वचन में शब्द रूप (Varman Shabd Roop) नीचे दिये गये हैं।

वर्मन् के शब्द रूप – Shabd roop of Varman

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा वर्म वर्मणी वर्माणि
द्वितीया वर्म वर्मणी वर्माणि
तृतीया वर्मणा वर्मभ्याम् वर्मभिः
चतुर्थी वर्मणे वर्मभ्याम् वर्मभ्यः
पंचमी वर्मणः वर्मभ्याम् वर्मभ्यः
षष्ठी वर्मणः वर्मणोः वर्मणाम्
सप्तमी वर्मणि वर्मणोः वर्मसु
सम्बोधन हे वर्मन् ! हे वर्मणी ! हे वर्माणि !

वर्मन् शब्द का अर्थ/मतलब

वर्मन् शब्द का अर्थ कवच, बकतर, घर, आश्रय होता है। वर्मन् शब्द नकारान्त शब्द है इसका मतलब भी ‘कवच, बकतर, घर, आश्रय’ होता है।

वर्मन् जैसे और महत्वपूर्ण शब्द रूप

उपर्युक्त शब्द रूप वर्मन् शब्द के नकारान्त नपुंसकलिंग शब्द के शब्द रूप हैं वर्मन् जैसे शब्द रूप (Varman shabd Roop) देखने के लिए Shabd Roop List पर जाएँ।

संस्कृत में धातु रूप देखने के लिए Dhatu Roop पर क्लिक करें और नाम धातु रूप देखने के लिए Nam Dhatu Roop पर जायें।

Related Posts

ब्राह्मण शब्द के रूप – Brahman Ke Roop – संस्कृत

ब्राह्मण शब्द ब्राह्मण शब्द : अकारांत पुल्लिंग संज्ञा , सभी पुल्लिंग संज्ञाओ के रूप इसी प्रकार बनाते है जैसे -देव, बालक, राम, वृक्ष, सूर्य, सुर, असुर, मानव, अश्व, गज, ब्राह्मण, क्षत्रिय,...Read more !

बलवत् (बलवान्) शब्द के रूप (Balavat Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Balavat Shabd बलवत् शब्द (Strong, बलवान्, बलिष्ठ, मजबूत, ताकतवर): बलवत् शब्द के तकारांत डवतु प्रत्ययान्त पुल्लिङ्गः शब्द के शब्द रूप, बलवत् (Balavat) शब्द के अंत में “त्” का प्रयोग हुआ...Read more !

क्षात्र शब्द के रूप – Kshatra Ke Shabd Roop – Sanskrit

Kshatra Shabd क्षात्र शब्द (क्षत्रियत्व, क्षत्रीपन): क्षात्र शब्द के अकारान्त नपुंसकलिंग शब्द के शब्द रूप, क्षात्र (Kshatra) शब्द के अंत में “अ” की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह अकारान्त...Read more !

धृति शब्द के रूप (Dhrati Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Dhrati Shabd धृति शब्द (धारण, धरने या पकड़ने की क्रिया, ठहराव): धृति शब्द के इकारान्त स्त्रील्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, धृति (Dhrati) शब्द के अंत में “इ” की मात्रा का...Read more !

द्वितय शब्द के रूप (Dvitaya Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Dvitaya Shabd द्वितय शब्द (जिसके दो अवयव हैं): द्वितय शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, द्वितय (Dvitaya) शब्द के अंत में “अ” का प्रयोग हुआ इसलिए यह अकारान्त...Read more !