तद् (वह, That) स्त्रीलिंग शब्द के रूप – Vah, Tad Striling ke roop – Sanskrit

तद् स्त्रीलिंग शब्द के रूप

तद् स्त्रीलिंग शब्द (That, वह): तद् (वह) स्त्रीलिंग सर्वनाम, यदादि यद्, तद्, एतद्, किम् – इन शब्दों का क्रमशः य: , स: , एष: , स्य: , क: होता है। और सर्व्वादि के तुल्य रूप होते हैं। नपुंसकलिंग में प्रथमा और द्वतीया के एकवचन में यत् , तत् , एतत् , त्यत् , किम् होता है। स्त्रीलिंग में इन शब्दों का रूप या , सा , एषा , स्या, का, होता है। सर्वनाम का सम्बोधन नहीं होता है।

तद् स्त्रीलिंग के रूप

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा सा ते ताः
द्वितीया ताम् ते ताः
तृतीया तया ताभ्याम् ताभिः
चतुर्थी तस्यै ताभ्याम् ताभ्यः
पंचमी तस्याः ताभ्याम् ताभ्यः
षष्ठी तस्याः तयोः तासाम्
सप्तमी तस्याम् तयोः तासु

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

Shabd roop of Tad Striling

Vah, Tad Striling ke roop - Sanskrit Shabd Roop

Related Posts

भू (पृथ्वी) शब्द के रूप – Bhoo ke roop – Sanskrit

भू (पृथ्वी) शब्द रूप भू शब्द (पृथ्वी, earth): ऊकारान्त स्त्रील्लिंग संज्ञा, सभी ऊकारान्त स्त्रील्लिंग संज्ञापदों के रूप इसी प्रकार बनाते है। भ्रू के रूप भी ‘भू’ की तरह ही होते...Read more !

अवि शब्द के रूप (Avi Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Avi Shabd अवि शब्द (सूर्य, मदार, आक, पर्वत ): अवि शब्द के इकारांत पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, अवि (Avi) शब्द के अंत में “इ” की मात्रा का प्रयोग हुआ...Read more !

शम्भु शब्द के रूप – Shambhu Ke Shabd Roop – Sanskrit

Shambhu Shabd शम्भु शब्द (महादेव, शिव, कल्याण करने वाला): शम्भु शब्द के उकारांत पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, शम्भु (Shambhu) शब्द के अंत में “उ” की मात्रा का प्रयोग हुआ...Read more !

गौरी शब्द के रूप (Gauri Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Gauri Shabd गौरी शब्द (गोरे रंग का स्त्री, पार्वती, गिरिजा): गौरी शब्द के ईकारान्त स्त्रीलिंग शब्द के शब्द रूप, गौरी (Gauri) शब्द के अंत में ‘ई’ की मात्रा का प्रयोग...Read more !

द्विजन्मन् (द्विजन्मा) शब्द के रूप (Dvijanman Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Dvijanman Shabd द्विजन्मन् शब्द (द्विजन्मा, जिसका दो बार जन्म हुआ हो, द्विज): द्विजन्मन् शब्द के नकारांत पुल्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, द्विजन्मन् (Dvijanman) शब्द के अंत में “न्” का प्रयोग...Read more !