एकांकी और एकांकीकार – लेखक और रचनाएँ, हिन्दी

EKANKI AUR EKANKIKAR - HINDI

हिन्दी की एकांकी और एकांकीकार

हिन्दी की प्रथम एकांकीजयशंकर प्रसाद‘ द्वारा रचित “एक घूँट” है। एक अंक वाले नाटक को एकांकी कहा जाता है। हिन्दी में ‘एकांकी’ जो अंग्रेजी ‘वन एक्ट प्ले‘ के लिए हिन्दी नाम है, आधुनिक काल में हिन्दी के अंग्रेजी से संपर्क का परिणाम है, पर भारत के लिए यह साहित्य रूप नया बिल्कुल नहीं है। प्रो. अमरनाथ ने कहा है- “एकांकी नाटक हिन्दी में सर्वथा नवीनतम कृति है। इसका जन्म हिन्दी साहित्य में अंग्रेजी के प्रभाव के कुछ वर्ष पूर्व ही हुआ है।”

हिन्दी की एकांकी और एकांकीकार की प्रमुख लेखकों और रचनाओं की लिस्ट-

एकांकी और एकांकीकार

क्रम एकांकी एकांकीकार
1. तन-मन-धन गुसाँई जी के अर्पण राधाचरण गोस्वामी
2. शिक्षादान बालकृष्ण भट्ट
3. जनेऊ का खेल देवकीनंदन खत्री
4. चार वेचारे, अफजल बध, भाई मियाँ ‘उग्र’
5. आनरेरी मजिस्ट्रेट, राजपूत की हार, प्रताप प्रतिज्ञा सुदर्शन
6. एक घूँट जयशंकर प्रसाद
7. रेशमी टाई, चारुमित्रा, विभूति, सप्तकिरण, औरंगजेब की आखिरी रात, पृथ्वी राज की आँखें, एक तोले अफीम की कीमत, दीपदान, दस मिनट, चंगेज खाँ, कौमुदी महोत्सव, मयूरपंख, जूही के फूल, 18 जुलाई की शाम, एक्ट्रेस डॉ० रामकुमार वर्मा
8. ताँबे के कीड़े, आजादी की नींद, सिकंदर, एक साम्यहीन साम्यवादी, प्रतिभा का विवाह, स्ट्राइक, बाजीराव की तस्वीर, फोटोग्राफर के सामने, लाटरी, श्यामा भुवनेश्वर
9. आत्मदान, दस हजार, एक ही कब्र में विस्फोट, समस्या का अंत, निर्दोष की रक्षा, बीमार का इलाज उदयशंकर भट्ट
10. लक्ष्मी का स्वागत, जोंक, अधिकार का रक्षक, अंधी गली, अंजो दीदी, सूखी डाली, स्वर्ग की झलक, भंवर, मोहब्बत, आपस का समझौता, छः एकांकी, साहब को जुकाम है, विवाह के दिन, देवताओं की छाया में अश्क
11. भोर का तारा, रीढ़ की हड्डी, मकड़ी का जाला, मेरी बाँसुरी, ओ मेरे सपने, कबूतरखाना जगदीशचंद्र माथुर
12. ईद और होली, फाँसी, प्रायश्चित्त, एकादमी सेठ गोविंददास
13. स्वप्नों के चित्र, दिमागी ऐयाशी रामनरेश त्रिपाठी
14. सबसे बड़ा आदमी भगवतीचरण वर्मा
15. प्रकाश और परछाई, पापी इन्सान, दस बजे रात, गहरा सागर, क्या वह दोषी था, वापसी विष्णु प्रभाकर
16. श्र स्वर्ग में विप्लव, कटोरी में कमल, मुक्ति का रहस्य राजयोग लक्ष्मी नारायण मिश्र
17. टकराहट जैनेंद्र
18. ल पर्वत के पीछेबहुरंगी, ताजमहल के आँसू, औलादी का बेटा, दूसरा दरवाजा लक्ष्मीनारायण लाल
19. नदी प्यासी थी, नीली झील, संगमरमर पर एक रात, सृष्टि का आखिरी आदमी, आवाज का नीलाम धर्मवीर भारती
20. गली के मोड़ पर, गाँधी की राह पर, पागलखाने में पंचकन्या, वधू चाहिए प्रभाकर माचवे
21. मातृमंदिर, राष्ट्रमंदिर, न्यायमंदिर, वाणीमंदिर हरिकृष्ण ‘प्रेमी’
22. अंडे के छिलके, प्यालियाँ टूटती हैं, सिपाही की माँ, छतरियाँ, बहुत बड़ा सवाल, हाँ! करफ्यू मोहन राकेश
23. उमरकैद गिरिजाकुमार माथुर
24. पत्थर और परछाई मार्कण्डेय

महत्वपूर्ण विधाओं के रचनाकार और रचनाएँ (लेखक और रचनाएँ)

उपन्यास-उपन्यासकार, कहानी-कहानीकार, नाटक-नाटककार, एकांकी-एकांकीकार, आलोचना-आलोचक, निबंध-निबंधकार, आत्मकथा-आत्मकथाकार, जीवनी-जीवनीकार, संस्मरण-संस्मरणकार, रेखाचित्र-रेखाचित्रकार, यात्राव्रतांत-यात्राव्रतांतकार, रिपोर्ताज-रचनाकार

You may like these posts

Hindi Bhasha – हिंदी भाषा एवं हिंदी शब्द की व्युत्पत्ति, विकास, अर्थ

हिंदी भाषा हिन्दी विश्व की एक प्रमुख भाषा है एवं भारत की राजभाषा है। केन्द्रीय स्तर पर भारत में दूसरी आधिकारिक भाषा अंग्रेज़ी है। हिन्दी भारत की राष्ट्रभाषा नहीं है...Read more !

हिन्दी की विधाओं की प्रथम रचना – हिन्दी में प्रथम

विधा की प्रथम रचना या हिन्दी की विभिन्न विधाओं की प्रथम रचनाएँ अक्सर विभिन्न बोर्ड की परीक्षाओं एवं अन्य हिन्दी की परीक्षाओं में पूछी जाती हैं। हिन्दी साहित्य का आरम्भ...Read more !

द्वन्द्व समास – परिभाषा, उदाहरण, सूत्र, अर्थ – संस्कृत, हिन्दी

द्वन्द्व समास की परिभाषा ‘दौ दो द्वन्द्वम्’-दो-दो की जोड़ी का नाम ‘द्वन्द्व है। ‘उभयपदार्थप्रधानो द्वन्द्ध:‘- जिस समास में दोनों पद अथवा सभी पदों की प्रधानता होती है। जैसे – द्वन्द्व...Read more !