परिमाणवाचक क्रियाविशेषण – परिभाषा, उदाहरण, भेद एवं अर्थ

परिभाषा

परिमाण वाचक क्रिया विशेषण वे होते हैं जिन क्रियाविशेषण शब्दों से क्रिया के परिमाण अथवा मात्रा से सम्बंधित विशेषता का ज्ञान हो, उन्हें परिमाण वाचक क्रिया विशेषण कहते है ।

उदाहरण

किञ्चित् – थोडा,  यावत् –  जितना,  तावत् – उतना,  न्यूनतम् – थोडा,  प्रकामम् – अधिक,  सामि  – आधा-आधी,  नाना –  अनेक आदि परिमाणवाचक क्रियाविशेषण के उदाहरण हैं।

कुछ परिमाणवाचक क्रियाविशेषण एवं उनके अर्थ

परिमाणवाचक क्रियाविशेषण अर्थ
किञ्चित् थोडा
यावत् जितना
तावत् उतना
न्यूनतम् थोडा
प्रकामम् अधिक
सामि आधा-आधी
नाना अनेक
ईषत् थोडा / कुछ
अलम् पर्याप्त / बेकार
केवलम् केवल
क्रतम् वस / काफी
भ्रशम् अधिकाधिक

Related Posts

Sanskrit translation – Learn, how to translate a sentence from Hindi to Sanskrit?

Translation of simple sentences of Sanskrit language into Hindi अनुवाद हेतु भाषा, शब्द तथा व्याकरण के ज्ञान की आवश्यकता किसी भी भाषा का ज्ञान होना, उस व्यक्ति के ज्ञान संग्रह...Read more !

Home items name or Daily usage goods in English, Hindi and Sanskrit – List & Table

In this chapter you will know the names of Home items name (Daily usage goods) in Hindi, Sanskrit and English. We are going to discuss Home item Name’s List &...Read more !

पूर्वरूप संधि – एडः पदान्तादति – Poorvroop Sandhi, Sanskrit Vyakaran

पूर्वरूप संधि पूर्वरूप संधि का सूत्र एडः पदान्तादति होता है। यह संधि स्वर संधि के भागो में से एक है। संस्कृत में स्वर संधियां आठ प्रकार की होती है। दीर्घ...Read more !

Sanskrit Baby Boy Names – संस्कृत एवं हिन्दी

Baby boy Sanskrit Baby Boy Names : आज इस प्रष्ठ में Baby boy के Names संस्कृत में बात करने वाले हैं। यहाँ पर हम आपके लिए लेकर आये हैं ‘Baby...Read more !

द्वन्द्व समास – परिभाषा, उदाहरण, सूत्र, अर्थ – संस्कृत, हिन्दी

द्वन्द्व समास की परिभाषा ‘दौ दो द्वन्द्वम्’-दो-दो की जोड़ी का नाम ‘द्वन्द्व है। ‘उभयपदार्थप्रधानो द्वन्द्ध:‘- जिस समास में दोनों पद अथवा सभी पदों की प्रधानता होती है। जैसे – द्वन्द्व...Read more !