तिर्य्यच् (तिर्यञ्च्) शब्द के रूप – Tiryyach Ke Roop, Shabd Roop – Sanskrit

Tiryyach Shabd

तिर्य्यच् शब्द (Bird, पक्षी, तिर्यञ्च्): तिर्यञ्च् शब्दः चकारान्त शब्द , इस प्रकार के सभी चकारान्त शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। संस्कृत व्याकरण एवं भाषा में शब्द रूप अति महत्व रखते हैं। और धातु रूप (Dhatu Roop) भी बहुत ही आवश्यक होते हैं।

तिर्य्यच् के शब्द रूप इस प्रकार हैं-

तिर्य्यच् के शब्द रूप – Tiryyach Shabd Roop

Shabd roop of Tiryyach, Pulling – पुल्लिंग

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा तिर्यङ् तिर्यञ्चौ तिर्यञ्चः
द्वितीया तिर्यञ्चम् तिर्यञ्चौ तिर्यचः
तृतीया तिर्यचा तिर्यग्भ्याम् तिर्यग्भिः
चतुर्थी तिर्यचे तिर्यग्भ्याम् तिर्यग्भ्यः
पंचमी तिर्यचः तिर्यग्भ्याम् तिर्यग्भ्यः
षष्ठी तिर्यचः तिर्यचोः तिर्यचाम्
सप्तमी तिर्यचि तिर्यचोः तिर्यक्षु
सम्बोधन हे तिर्यङ् ! हे तिर्यञ्चौ ! हे तिर्यञ्चः !

Shabd roop of Tiryyach, Napunsak ling – नपुंसकलिंग

नपुंसकलिंग शब्द रूप पुल्लिंग शब्द रूपों की तरह ही होते हैं। सिर्फ प्रथमा और द्वितीया विभक्ति के शब्द रूपों में अंतर होता है।

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा तिर्य्यक् तिरश्ची तिर्यञ्चि
द्वितीया तिर्य्यक् तिरश्ची तिर्यञ्चि
तृतीया तिर्यचा तिर्यग्भ्याम् तिर्यग्भिः
चतुर्थी तिर्यचे तिर्यग्भ्याम् तिर्यग्भ्यः
पंचमी तिर्यचः तिर्यग्भ्याम् तिर्यग्भ्यः
षष्ठी तिर्यचः तिर्यचोः तिर्यचाम्
सप्तमी तिर्यचि तिर्यचोः तिर्यक्षु
सम्बोधन हे तिर्य्यक् ! हे तिरश्ची ! हे तिर्यञ्चि !

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

महत्वपूर्ण शब्द रूप की Shabd Roop List देखें और साथ में shabd roop yad karane ki trick भी, सभी शब्द रूप संस्कृत में।

Related Posts

श्रेयसी शब्द के रूप (Sreyasi Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Sreyasi Shabd श्रेयसी शब्द (हरीतकी, हर्रे, पाठा, पाठी, गज पीपल, रास्ना, यंगु, कल्याणमयी, श्रेययुक्ता): श्रेयसी शब्द के ईकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, श्रेयसी (Sreyasi) शब्द के अंत में ‘ई’...Read more !

गरी शब्द के रूप – Gari Ke Shabd Roop – Sanskrit

Gari Shabd गरी शब्द (नारियल का खोपरा, नारियल के फल के अंदर का मुलायम गूदा, मगज): गरी शब्द के ईकारान्त स्त्रील्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, गरी (Gari) शब्द के अंत...Read more !

अमर शब्द के रूप – Amar Ke Shabd Roop – Sanskrit

Amar Shabd अमर शब्द (न मरने वाला- अविनाशी): अमर शब्द के अकारान्त नपुंसकलिंग शब्द के शब्द रूप, अमर (Amar) शब्द के अंत में “अ” की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए...Read more !

तृतीया शब्द के रूप (Trateeya Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Trateeya Shabd तृतीया शब्द (तीसरा, Third): तृतीया शब्द के आकारान्त स्त्रीलिङ्ग शब्द के शब्द रूप, तृतीया (Trateeya) शब्द के अंत में ‘आ’ की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह आकारान्त...Read more !

अपर शब्द के रूप (Apar Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Apar Shabd अपर शब्द (जो पर न हो, पहला, पूर्व का, पिछला, जिससे कोई पर न हो, अन्य): अपर शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, अपर (Apar) शब्द...Read more !