भवत् स्त्रील्लिंग शब्द के रूप – Bhavat Striling ke roop, Shabd Roop – Sanskrit

भवत् स्त्रील्लिंग शब्द के रूप

भवत् स्त्रील्लिंग शब्द (Your, आप): भवत् स्त्रील्लिंग सर्वनाम, सर्वनाम का सम्बोधन नहीं होता है। भवत् – पुल्लिङ्ग् (आप, Your), भवत् – स्त्रीलिङ्ग (आप, Your), इसका नपुंसकलिंग शब्द रूप नहीं होता है।

भवत् स्त्रील्लिंग के रूप – Shabd Roop

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा भवती भवत्यौ भवत्सः
द्वितीया भवतीम् भवत्यौ भवतीः
तृतीया भवत्या भवतीभ्याम् भवतीभिः
चतुर्थी भवत्यै भवतीभ्याम् भवतीभ्यः
पंचमी भवत्याः भवतीभ्याम् भवतीभ्यः
षष्ठी भवत्याः भवतोः भवतीनाम्
सप्तमी भवति भवतोः भवत्सु

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

Shabd roop of Bhavat Striling

Aap, Bhavat Striling ke roop - Shabd Roop - Sanskrit

You may like these posts

अभिमान शब्द रूप – Abhiman Ke Shabd Roop – Sanskrit

Abhiman Shabd अभिमान शब्द (Pride, गर्व): अकारांत पुंल्लिंग शब्द , इस प्रकार के सभी अकारांत पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। अभिमान के शब्द रूप...Read more !

इतर शब्द के रूप (Itar Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Itar Shabd इतर शब्द (other, अन्य, और, दूसरा, इतर, पर): इतर शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, इतर (Itar) शब्द के अंत में “अ” का प्रयोग हुआ इसलिए...Read more !

वार् शब्द के रूप – Vaar Shabd Roop – संस्कृत

Vaar Shabd वार् शब्द (जल,पानी, रक्षक, त्राता, प्रति- पालक): वार् शब्द के रकारान्त स्त्रीलिंग शब्द के शब्द रूप, वार् (Vaar) शब्द के अंत में ‘र्’ की मात्रा का प्रयोग हुआ...Read more !

2 Comments

  1. नमस्ते! “भवती” शब्दरुप पाने षष्टि बहुवचन “भवतीभ्यः” इति दर्शयति। “भवतीनाम्” सम्यक इति मन्ये। कृपया शुद्धि करोतु।
    धन्यवादः।

    1. नमस्ते धवल पवार,
      आपको बहुत बहुत धन्यवाद सुझाव देने के लिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *