तुम्हीं हो माता, पिता तुम्हीं हो – Tumhi ho Mata, Pita tumhi ho- हिन्दी प्रार्थना/कविता/गीत/वंदना

Tumhi ho Mata, Pita tumhi ho
हिन्दी प्रार्थना/कविता/गीत/वंदना: तुम्ही हो माता, पिता तुम्ही हो। तुम्ही हो बंधू, सखा तुम्ही हो॥ तुम ही हो साथी, तुम ही सहारे। कोई ना अपना सिवा तुम्हारे॥

तुम्हीं हो माता, पिता तुम्हीं हो

तुम्ही हो माता, पिता तुम्ही हो।
तुम्ही हो बंधू, सखा तुम्ही हो॥

तुम्ही हो माता, पिता तुम्ही हो।
तुम्ही हो बंधू, सखा तुम्ही हो॥

तुम ही हो साथी, तुम ही सहारे।
कोई ना अपना सिवा तुम्हारे॥

तुम ही हो साथी, तुम ही सहारे।
कोई ना अपना सिवा तुम्हारे॥

तुम ही हो नईया, तुम ही खिवईया।
तुम ही हो बंधू, सखा तुम ही हो॥

तुम ही हो माता, पिता तुम्ही हो।
तुम ही हो बंधू, सखा तुम्ही हो॥

जो खिल सके ना वो फूल हम हैं।
तुम्हारे चरणों की धूल हम हैं॥

जो खिल सके ना वो फूल हम हैं।
तुम्हारे चरणों की धूल हम हैं॥

दया की दृष्टि, सदा ही रखना।
तुम ही हो बंधू, सखा तुम्ही हो॥

तुम्ही हो माता, पिता तुम्ही हो।
तुम्ही हो बंधू, सखा तुम्ही हो॥

तुम्ही हो माता, पिता तुम्ही हो।
तुम्ही हो बंधू, सखा तुम्ही हो॥


Tumhi ho Mata, Pita tumhi ho

tumhin ho mata, pita tumhin ho,
tumhin ho bandhu, sakha tumhin ho.

tumhin ho sathi, tumhin sahare,
koi na apna siva tumhare .

tumhin ho naiya, tumhin khevaiya,
tumhin ho bandhu, sakha tumhi ho.

jo khil sake na wo phool ham hain,
tumhare charanon ki dhool ham hain

daya ki drishti sada hi rakhna,
tumhi ho bandhu, sakha tumhin ho.

अन्य हिन्दी प्रार्थना/कविता/गीत/वंदना: सुबह सवेरे लेकर तेरा नाम प्रभु, वह शक्ति हमें दो दया निधे, पूजनीय प्रभु हमारे भाव उज्वल कीजिये, तू ही राम है तू रहीम है, इतनी शक्ति हमें देना दाता, जयति जय जय माँ सरस्वती, तुम्हीं हो माता पिता तुम्हीं हो, दया कर दान विद्या का, मानवता के मन मन्दिर में, माँ शारदे कहाँ तू वीणा, हम होंगे कामयाब एक दिन, हमको मन की शक्ति देना, हर देश में तू हर भेष में तू, हे प्रभो आनंद-दाता ज्ञान हमको दीजिए, हे शारदे माँ, हे हंसवाहिनी ज्ञानदायिनी, ऐ मालिक तेरे बंदे हम, वर दे वीणावादिनी वर दे

You may like these posts

ऐ मालिक तेरे बंदे हम – Ae malik tere bande hum – हिंदी प्रार्थना/गीत/कविता/वंदना

‘ऐ मालिक तेरे बंदे हम ऐसे हो हमारे करम’ लिखने वाले गीतकार ‘भरत व्यास’ थे। भारत व्यास (Bharat Vyaas: 1918-1982) एक प्रसिद्ध भारतीय गीतकार थे, जिन्होंने 1950 और 1960 के...Read more !

हर देश में तू, हर भेष में तू – Har Desh Mein Tu Har Bhesh Mein Tu – हिन्दी प्रार्थना/कविता/गीत/वंदना

हर देश में तू, हर भेष में तू, तेरे नाम अनेक तू एक ही है हर देश में तू, हर भेष में तू, तेरे नाम अनेक तू एक ही है,...Read more !

हे प्रभो आनंद-दाता ज्ञान हमको दीजिए – Hey Prabhu Anand Data Gyan Humko Deejiye – हिन्दी प्रार्थना/कविता/गीत

‘हे प्रभु आनंद-दाता ज्ञान हमको दीजिए’ महाकवि पंडित रामनरेश त्रिपाठी द्वारा रचित के काव्य साहित्य की देन है। यह गीत रचना स्कूलों में प्रार्थना के रूप में गाया जाता है।...Read more !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *