स्वयंभू शब्द के रूप – Svayambhu ke roop – Sanskrit

स्वयंभू शब्द के रूप

स्वयंभू शब्द (ब्रह्म): ऊकारांत स्त्रीलिंग संज्ञा, सभी ऊकारांत स्त्रीलिंग संज्ञापदों के रूप इसी प्रकार बनाते है जैसे – अधिभू, जितभू, मनोभू आदि।

स्वयंभू के शब्द रूप – Svayambhu Shabd Roop

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा स्वयम्भूः स्वयम्भुवौ स्वयम्भुवः
द्वितीया स्वयम्भुवम् स्वयम्भुवौ स्वयम्भुवः
तृतीया स्वयम्भुवा स्वयम्भूभ्याम् स्वयम्भूभिः
चतुर्थी स्वयम्भुवे स्वयम्भूभ्याम् स्वयम्भूभ्यः
पंचमी स्वयम्भुवः स्वयम्भूभ्याम् स्वयम्भूभ्यः
षष्ठी स्वयम्भुवः स्वयम्भुवोः स्वयम्भुवाम्
सप्तमी स्वयम्भुवि स्वयम्भुवोः स्वयम्भूषु
संबोधन हे स्वयम्भूः ! हे स्वयम्भुवौ ! हे स्वयम्भुवः !

कुछ अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप –

अधिभू, जितभू, मनोभू आदि।

Shabd Roop of Swayambhu in Photo (pdf/image)

swayambhu shabd roop -स्वयंभू शब्द के रूप - sanskrit-vyakaran

You may like these posts

मन / मनस् शब्द के रूप – Man / Manas Ke Roop, Shabd Roop – Sanskrit

Man / Manas Shabd मन / मनस् शब्द (The mind): अकारांत पुंल्लिंग शब्द , इस प्रकार के सभी अकारांत पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है।...Read more !

शुद्धी शब्द के रूप (Shuddhi Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Shuddhi Shabd शुद्धी शब्द (शुद्ध होने का कार्य, Cleanliness, सफाई, स्वच्छता): शुद्धी शब्द के ईकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, शुद्धी (Shuddhi) शब्द के अंत में ‘ई’ की मात्रा का...Read more !

पुत्र शब्द के रूप (Putr Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Putr Shabd पुत्र शब्द (Son, बेटा, पुत्र, वंशज, पुत्रक, वंशधर, कुमार): पुत्र शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, पुत्र (Putr) शब्द के अंत में “अ” का प्रयोग हुआ...Read more !