दक्षिण शब्द के रूप (Dakshin Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Dakshin Shabd

दक्षिण शब्द (South, एक दिशा है): दक्षिण शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, दक्षिण (Dakshin) शब्द के अंत में “अ” का प्रयोग हुआ इसलिए यह अकारान्त हैं। अतः Dakshin Shabd के Shabd Roop की तरह दक्षिण जैसे सभी अकारान्त पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। दक्षिण शब्द के शब्द रूप संस्कृत में सभी विभक्तियों एवं तीनों वचन में शब्द रूप (Dakshin Shabd Roop) नीचे दिये गये हैं।

दक्षिण के शब्द रूप – Shabd roop of Dakshin

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा दक्षिणः दक्षिणौ दक्षिणे, दक्षिणाः
द्वितीया दक्षिणम् दक्षिणौ दक्षिणान्
तृतीया दक्षिणेन दक्षिणाभ्याम् दक्षिणैः
चतुर्थी दक्षिणस्मै दक्षिणाभ्याम् दक्षिणेभ्यः
पंचमी दक्षिणस्मात् दक्षिणाभ्याम् दक्षिणेभ्यः
षष्ठी दक्षिणस्य दक्षिणयोः दक्षिणेषाम्
सप्तमी दक्षिणस्मिन् दक्षिणयोः दक्षिणेषु
सम्बोधन हे दक्षिण ! हे दक्षिणौ ! हे दक्षिणे, दक्षिणाः !

दक्षिण शब्द का अर्थ/मतलब

दक्षिण शब्द का अर्थ South, एक दिशा है होता है। दक्षिण शब्द अकारान्त शब्द है इसका मतलब भी ‘South, एक दिशा है’ होता है।

दक्षिण १ वि्॰ [सं॰]

  1. दहना । दाहना । बायाँ का उलटा । अप- सव्य ।
  2. इस प्रकार प्रवृत्त जिससे किसी का कार्य सिद्ध हो । अनुकूल ।
  3. साधु । ईमानदार । सच्चा (को॰) ।
  4. उस ओर का जिधर सूर्य की ओर मुँह करके खड़े होने से दाहिना हाथ पेड़ । उत्तर का उलटा । यौ॰—दक्षिणापथ । दक्षिणायन ।
  5. निपुण । दक्ष । चतुर ।

दक्षिण २ संज्ञा पुं॰

  1. दक्खिन की दशा । उत्तर के सामने की दिशा ।
  2. काव्य या साहित्य में वह नायक जिसका अनुराग अपनी सब नायिकाओं पर समान हो ।
  3. प्रदक्षिण ।
  4. तंत्रोक्त एक आचार या मार्ग । विशेष—कुलार्णव तंत्र में लिखा है कि सबसे उत्तम तो वेदमार्ग है, वेद से अच्छा वैष्णाव मार्ग है, वैष्णव से अच्छा शैव मार्ग है, शेव से अच्छा दक्षिण मार्ग है, दक्षिण से अच्छा वाम मार्ग है और वाम मार्ग से भी अच्छा सिद्धांत मार्ग है ।
  5. विष्णु ।
  6. शिव का एक नाम (को॰) ।
  7. दाहिना हाथ या पार्श्व (को॰) ।
  8. दे॰ ‘दक्षिणाग्नि’ ।
  9. रथ कै दाहिनी ओर का अश्व (को॰) ।
  10. दक्षिण का प्रदेश (को॰) ।

दक्षिण मार्ग संज्ञा पुं॰ [सं॰]

  1. एक प्रकार की तांत्रिक साधना ।
  2. पितृयान [को॰] ।

दक्षिण जैसे और महत्वपूर्ण शब्द रूप

उपर्युक्त शब्द रूप दक्षिण शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप हैं दक्षिण जैसे शब्द रूप (Dakshin shabd Roop) देखने के लिए Shabd Roop List पर जाएँ।

You may like these posts

पठितवत् (पठितवान्) शब्द के रूप (Pathitavat Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Pathitavat Shabd पठितवत् शब्द (पठितवान्, पढ़ा हुआ): पठितवत् शब्द के तकारांत डवतु प्रत्ययान्त पुल्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, पठितवत् (Pathitavat) शब्द के अंत में “त्” का प्रयोग हुआ इसलिए यह...Read more !

बुद्धिमत् (बुद्धिमत्ता) शब्द के रूप (Buddhimat Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Buddhimat Shabd बुद्धिमत् शब्द (Intelligence, बुद्धिमत्ता, समझदारी, अक्लमंदी): बुद्धिमत् शब्द के तकारांत डवतु प्रत्ययान्त पुल्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, बुद्धिमत् (Buddhimat) शब्द के अंत में “त्” का प्रयोग हुआ इसलिए...Read more !

गोपा शब्द के रूप – Gopa Ke Shabd Roop – Sanskrit

Gopa Shabd गोपा शब्द (गाय का रक्षक): आकारान्त शब्द , इस प्रकार के सभी आकारान्त शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। गोपा के शब्द रूप इस...Read more !