न – से शुरू होने वाले पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd)

(‘न’ से शुरू होने वाले पर्यायवाची) पर्याय का अर्थ है – समान। अतः समान अर्थ व्यक्त करने वाले शब्दों को पर्यायवाची शब्द (Synonym words) कहते हैं। इन्हें प्रतिशब्द या समानार्थक शब्द भी कहा जाता है। व्यवहार में पर्याय या पर्यायवाची शब्द ही अधिक प्रचलित हैं। विद्यार्थियों के अध्ययन हेतु पर्यायवाची शब्दों की सूची प्रस्तुत है-

न - पर्यायवाची शब्द

‘न’ से शुरू होने वाले पर्यायवाची शब्द

शब्द पर्यायवाची
नदी तनूजा, सरित, शौवालिनी, स्रोतस्विनी, आपगा, निम्रगा, कूलंकषा, तटिनी, सरि, सारंग, जयमाला, तरंगिणी, दरिया, निर्झरिणी।
नौका नाव, तरिणी, जलयान, जलपात्र, तरी, बेड़ा, डोंगी, तरी, पतंग।
नाग विषधर, भुजंग, अहि, उरग, काकोदर, फणीश, सारंग, व्याल, सर्प, साँप।
नर्क यमलोक, यमपुर, नरक, यमालय।
नर जन, मानव, मनुष्य, पुरुष, मर्त्य, मनुज।
निंदा दोषारोपण, फटकार, बुराई, भर्त्सना।
नेत्र चक्षु, लोचन, नयन, अक्षि, चख, आँख।
नंदकुमार नंदलाल, नंदकिशोर, नंदनंदन, कृष्ण, मुरारी, मोहन।
नंदिनी बेटी, पुत्री, अंगजा, तनुजा, सुता, धी, दुहिता।
नक्षत्र उडु, तारिका, नखत, जुन्हाई।
नगपति हिमालय, पर्वतराज, पर्वतेश्वर, नगेश, नगेंद्र, शैलेन्द्र।
नजीर मिसाल, दृष्टांत, उदाहरण।
नशेमन होंसला, आशियाना, नीड़।
नश्वर नाशवान, फानी, क्षयी, क्षर, भंगुर, मर्त्य।
नसीहत शिक्षा, सीख, उपदेश।
नसैनी जीना, सीढ़ी, सोपान।
नाऊ हज्जाम, हजाम, क्षौरकार, नाई, नाऊठाकुर।
नामर्द क्लीव, नपुंसक, पुंसत्वहीन।
नारी स्त्री, वनिता, महिला, मानवी।
नाविक केवट, खेवट, मल्लाह, खिवैया।
नाहर शेर, सिंह, मृगराज, मृगेंद्र, केसरी, केहरी।
निभृत एकांत, निर्जन, जनशून्य, विजन, वीरान, सुनसान।
नियम उसूल, सिद्धांत, विधि, रीति।
निरक्षर अनपढ़, अपढ़, अशिक्षित, लाइल्म।
निराला अनूठा, अनोखा, अपूर्व, अद्भुत, अद्वितीय।
निवेदन विनय, अनुनय, विनती, प्रार्थना, गुजारिश, इल्तजा।
निशा रात्रि, रैन, रात, निशि, विभावरी।
निष्ठुर निर्दयी, निर्मम, संगदिल, क्रूर, कठोर।
नीरस फीका, बेरस, बेजायका, अस्वाद।
नूतन नव, नवल, नव्य, नवीन।
नूर आभा, आलोक, कांति, तेज, प्रकाश।
नौकर भृत्य, चाकर, किंकर, मुलाजिम, खादिम।
न्यौता निमंत्रण, आमंत्रण, बुलावा।
नया नूतन, नव, नवीन, नव्य।

पर्यायवाची शब्द सूची



इ, ई
उ, ऊ
ऋ,ए,ऐ,ओ,औ





छ,ज,ट,ठ
ड,ढ़,त,थ,द







य,र,ल,व
श,स,ष,ह

Paryayvachi Shabd

You may like these posts

संदिग्ध भूतकाल – परिभाषा, वाक्य और उदाहरण – हिन्दी व्याकरण

संदिग्ध भूतकाल हिन्दी में – Hindi में Kaal के तीन भेद या प्रकार ‘भूतकाल, वर्तमान काल और भविष्य काल‘ आदि होते है। और भूतकाल को पुनः छः भेदों में विभक्त...Read more !

पुरुष – परिभाषा, भेद एवं उदाहरण : हिन्दी व्याकरण, Purush in hindi

पुरुष की परिभाषा: वे व्यक्ति जो संवाद के समय भागीदार होते हैं, उन्हें पुरुष कहा जाता है। जैसे: मेरा नाम सचिन है। इस वाक्य में वक्ता(सचिन) अपने बारे में बता...Read more !

विराम चिन्ह – परिभाषा, प्रकार, उदाहरण और उनका प्रयोग – Hindi

हिन्दी व्याकरण में विराम चिन्ह (punctuation mark) का अर्थ है ठहराव, विश्राम, रुकना। अथार्त वाक्य लिखते समय विराम को प्रकट करने के लिए लगाये जाने वाले चिन्ह को ही विराम...Read more !