आसन्न भूतकाल – परिभाषा, वाक्य और उदाहरण – हिन्दी व्याकरण

Asanna Bhootkaal

आसन्न भूतकाल हिन्दी में – Hindi में Kaal के तीन भेद या प्रकार ‘भूतकाल, वर्तमान काल और भविष्य काल‘ आदि होते है। और भूतकाल को पुनः छः भेदों में विभक्त किया गया है ‘सामान्य भूतकाल, आसन्न भूतकाल, पूर्ण भूतकाल, अपूर्ण भूतकाल, संदिग्ध भूतकाल, हेतु-हेतुमद् भूतकाल’। इस प्रष्ठ में Bhootkaal में से “आसन्न भूतकाल” के वाक्य, परिभाषा और उदाहरण आदि की जानकारी दी गई है।

आसन्न भूतकाल (Asanna Bhootkaal)

परिभाषा: क्रिया के जिस रूप में काम भूतकाल में शुरू होकर अभी-अभी समाप्त हुआ है, उसे आसन्न भूतकाल कहते हैं। अर्थात जब क्रिया अभी शीघ्र ही पूर्ण हुई हो तो आसन्न भूतकाल (Recent Past Tense) कहा जाता है।

आसन्न का शाब्दिक अर्थ होता है ‘निकट‘ अर्थात ऐसी क्रियाएं जो भूतकाल में आरंभ होकर वर्तमान काल के निकट समाप्त होती हैं उन क्रियाओं को आसन्न भूतकाल कहते हैं। जैसे-

  • उसने लड़ाई की है।
  • गाड़ी आई है।

पहचान: आसन्न भूतकाल की क्रिया में हूँ, हैं, है, हो लगता है।

संरचना: आसन्न भूतकाल की क्रिया की संरचना के लिए सामान्य की संरचना में सिर्फ है/हैं/हो/हूँ लगाना पड़ता है।

आसन्न भूतकाल के उदाहरण

1. ममता अभी गई है।

2. मीना गई है।

3. बच्चों ने पुस्तक पढ़ी है।

4. मैं अभी हिसार से आया हूँ।

5. मैंने सेब खाया है।

6. अध्यापिका पढ़कर आयीं हैं।

7. मैं अभी सोकर उठा हूँ।

8. उसने दवा खायी है।

9. सिपाही ने चोर को पकड़ लिया।

10. मैंने होमवर्क किया है।

11. मैं कुछ देर पहले ही गांव से आया हूं।

12. नाना ने मुझे एक कविता सुनाई है।

13. अमरीका ने हिरोशिमा पर बम गिराया है।

14. श्याम ने देखा हैं।

15. जापान ने उस घटना को भुला दिया है।

16. राम ने पत्र लिखा है।

17. वह अभी-अभी आया है।

18. रमन ने सब्जी बेचीं है।

19. रोहन ने खाना खाया है।

20. वह अपनी प्रेमिका की याद में वाहूत रोया है।

पढ़ें अन्य भूतकाल के भेद (Kaal in Hindi)

सामान्य भूतकाल, आसन्न भूतकाल, पूर्ण भूतकाल, अपूर्ण भूतकाल, संदिग्ध भूतकाल, हेतु-हेतुमद् भूतकाल

Frequently Asked Questions (FAQ)

1. आसन्न भूतकाल की परिभाषा लिखिए?

क्रिया के जिस रूप से यह ज्ञात हो कि काम अभी-अभी पूरा हुआ है। जैसे- मैं अभी हिसार से आया हूँ।, मैंने सेब खाया है।, अध्यापिका पढ़कर आयीं हैं।

2. आसन्न भूतकाल किसे कहते हैं?

ऐसी क्रिया जिसमें किसी भी कार्य के निकट या पास में ही भूत काल की घटना संपन्न हुई हो, उसे आसन्न भूतकाल कहा जाता है। कई बार हम आसन्न भूतकाल में कुछ गड़बड़ी कर बैठते हैं, ऐसे में हमें इसे सही प्रकार से समझने की आवश्यकता है। उदाहरण के लिए- वह अभी-अभी आया है।, रमन ने सब्जी बेचीं है।, रोहन ने खाना खाया है।

3. आसन्न भूतकाल क्या हैं?

क्रिया के जिस रूप से उसकी समाप्ति निकट भूत में या तत्काल सूचित होती है, उसे ‘आसन्न भूत’ की क्रिया कहते हैं। इस काल को ‘पूर्णवर्तमान’ के नाम से भी जाना जाता है; क्योंकि इसकी पूर्णता या समाप्ति वर्तमान के निकट में होती है। इस काल की क्रिया की संरचना के लिए सामान्य की संरचना में सिर्फ है/हैं/हो/हूँ लगाना पड़ता है। जैसे- मैंने होमवर्क किया है।, मैं कुछ देर पहले ही गांव से आया हूं।, नाना ने मुझे एक कविता सुनाई है।

4. आसन्न भूतकाल के उदाहरण लिखो?

आसन्न भूतकाल के उदाहरण निम्नलिखित हैं:- मीना गई है।, बच्चों ने पुस्तक पढ़ी है।, मैं अभी हिसार से आया हूँ।, मैंने सेब खाया है।, अध्यापिका पढ़कर आयीं हैं।, मैं अभी सोकर उठा हूँ।, उसने दवा खायी है।, सिपाही ने चोर को पकड़ लिया।, मैंने होमवर्क किया है।

5. आसन्न भूतकाल के वाक्य लिखिए?

आसन्न भूतकाल के वाक्य निम्नलिखित हैं:- मैं कुछ देर पहले ही गांव से आया हूं।, नाना ने मुझे एक कविता सुनाई है।, अमरीका ने हिरोशिमा पर बम गिराया है।, श्याम ने देखा हैं।, जापान ने उस घटना को भुला दिया है।, राम ने पत्र लिखा है।, वह अभी-अभी आया है। रमन ने सब्जी बेचीं है।, रोहन ने खाना खाया है।

पढ़ें हिन्दी व्याकरण के अन्य चैप्टर

भाषा, वर्ण, शब्द, पद, वाक्य, संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया, क्रिया विशेषण, समुच्चय बोधक, विस्मयादि बोधक, वचन, लिंग, कारक, पुरुष, उपसर्ग, प्रत्यय, संधि, छन्द, समास, अलंकार, रस

You may like these posts

Hindi Vyakaran class 10 – कक्षा दस के लिए हिन्दी व्याकरण

Class 10 Hindi Vyakaran – हिन्दी व्याकरण हिन्दी व्याकरण हिंदी भाषा को शुद्ध रूप में लिखने और बोलने संबंधी नियमों का बोध करानेवाला शास्त्र है। यह हिंदी भाषा के अध्ययन...Read more !

शब्द (Shabd) (शब्द-विचार) – परिभाषा, भेद और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण

शब्द की परिभाषा शब्द: शब्द विचार हिंदी व्याकरण का दूसरा खंड है जिसके अंतर्गत शब्द की परिभाषा, भेद-उपभेद, संधि, विच्छेद, रूपांतरण, निर्माण आदि से संबंधित नियमों पर विचार किया जाता...Read more !

घ – से शुरू होने वाले पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd)

(‘घ’ से शुरू होने वाले पर्यायवाची) पर्याय का अर्थ है – समान। अतः समान अर्थ व्यक्त करने वाले शब्दों को पर्यायवाची शब्द (Synonym words) कहते हैं। इन्हें प्रतिशब्द या समानार्थक...Read more !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *