अम्बिका शब्द के रूप (Ambika Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Ambika Shabd

अम्बिका शब्द (माता, माँ, दुर्गा, भगवती, देवी, पार्वती): अम्बिका शब्द के आकारान्त स्त्रीलिङ्ग शब्द के शब्द रूप, अम्बिका (Ambika) शब्द के अंत में ‘आ’ की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह आकारान्त हैं। अतः Ambika Shabd के Shabd Roop की तरह अम्बिका जैसे सभी आकारान्त स्त्रीलिङ्ग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। अम्बिका शब्द के शब्द रूप संस्कृत में सभी विभक्तियों एवं तीनों वचन में शब्द रूप (Ambika Shabd Roop) नीचे दिये गये हैं।

अम्बिका के शब्द रूप – Shabd roop of Ambika

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा अम्बिका अम्बिके अम्बिकाः
द्वितीया अम्बिकाम् अम्बिके अम्बिकाः
तृतीया अम्बिकया अम्बिकाभ्याम् अम्बिकाभिः
चतुर्थी अम्बिकायै अम्बिकाभ्याम् अम्बिकाभ्यः
पंचमी अम्बिकायाः अम्बिकाभ्याम् अम्बिकाभ्यः
षष्ठी अम्बिकायाः अम्बिकयोः अम्बिकाणाम्
सप्तमी अम्बिकायाम् अम्बिकयोः अम्बिकासु
सम्बोधन हे अम्बिके ! हे अम्बिके ! हे अम्बिकाः !

अम्बिका शब्द का अर्थ/मतलब

अम्बिका शब्द का अर्थ माता, माँ, दुर्गा, भगवती, देवी, पार्वती होता है। अम्बिका शब्द आकारान्त शब्द है इसका मतलब भी ‘माता, माँ, दुर्गा, भगवती, देवी, पार्वती’ होता है। 1. जैनों की एक देवी । 2. कुटकी का पेड़ । 3. अंबष्ठा लता । पाढ़ा । 4. काशी के राजा इंद्रद्युम्न की तीन कन्याओं में मझली । विशेष—भीष्म अपने भाई विचित्रवीर्य के लिये इन कन्याओं को हर लाए थे । विचित्रवीर्य के मरने पर जब व्यास जी ने इससे नियोग किया तब धृतराष्ट्र उत्पन्न हुए ।

अम्बिका जैसे और महत्वपूर्ण शब्द रूप

उपर्युक्त शब्द रूप अम्बिका शब्द के आकारान्त स्त्रीलिङ्ग शब्द के शब्द रूप हैं अम्बिका जैसे शब्द रूप (Ambika shabd Roop) देखने के लिए Shabd Roop List पर जाएँ।

संस्कृत में धातु रूप देखने के लिए Dhatu Roop पर क्लिक करें और नाम धातु रूप देखने के लिए Nam Dhatu Roop पर जायें।

Related Posts

इतर शब्द के रूप (Itar Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Itar Shabd इतर शब्द (other, अन्य, और, दूसरा, इतर, पर): इतर शब्द के अकारान्त पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, इतर (Itar) शब्द के अंत में “अ” का प्रयोग हुआ इसलिए...Read more !

कृपालु शब्द के रूप – Krapalu Ke Shabd Roop – Sanskrit

Krapalu Shabd कृपालु शब्द (Krapalu Shabd Roop, दयावान्): कृपालु शब्द के उकारांत पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, अर्थात कृपालु (Krapalu) शब्द के अंत में “उ” की मात्रा का प्रयोग हुआ...Read more !

मानव शब्द के रूप – Maanav ke roop – संस्कृत

मानव शब्द मानव शब्द : अकारांत पुल्लिंग संज्ञा , सभी पुल्लिंग संज्ञाओ के रूप इसी प्रकार बनाते है जैसे -देव, बालक, राम, वृक्ष, सूर्य, सुर, असुर, मानव, अश्व, गज, ब्राह्मण, क्षत्रिय,...Read more !

स्वयंभू शब्द के रूप – Svayambhu ke roop – Sanskrit

स्वयंभू शब्द के रूप स्वयंभू शब्द (ब्रह्म): ऊकारांत स्त्रीलिंग संज्ञा, सभी ऊकारांत स्त्रीलिंग संज्ञापदों के रूप इसी प्रकार बनाते है जैसे – अधिभू, जितभू, मनोभू आदि। स्वयंभू के शब्द रूप...Read more !

निधन शब्द के रूप – Nidhan Ke Shabd Roop – Sanskrit

Nidhan Shabd निधन शब्द (मृत्यु, मरण): निधन शब्द के अकारान्त नपुंसकलिंग शब्द के शब्द रूप, निधन (Nidhan) शब्द के अंत में “अ” की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह अकारान्त...Read more !