स्वसृ शब्द के रूप – Swasr ke roop – Sanskrit (संस्कृत)

स्वसृ शब्द के रूप

स्वसृ शब्द (बहिन, Sister): ऋकारान्त स्त्रील्लिंग संज्ञा, सभी ऋकारान्त स्त्रील्लिंग संज्ञापदों के रूप इसी प्रकार बनाते है।

स्वसृ के रूप

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा स्वसा स्वसारौ स्वसारः
द्वितीया स्वसारम् स्वसारौ स्वसॄः
तृतीया स्वस्रा स्वसृभ्याम् स्वसृभिः
चतुर्थी स्वस्रे स्वसृभ्याम् स्वसृभ्यः
पञ्चमी स्वसुः स्वसृभ्याम् स्वसृभ्यः
षष्ठी स्वसुः स्वस्रोः स्वसॄणाम्
सप्तमी स्वसरि स्वस्रोः स्वसृषु
संबोधन हे स्वसः ! हे स्वसारौ ! हे स्वसारः !

अन्य महत्वपूर्ण शब्द रूप

Shabd roop of Swasr in Photo (pdf/image)

Swasr /bahin/sister Shabd Roop

Related Posts

धृति शब्द के रूप (Dhrati Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Dhrati Shabd धृति शब्द (धारण, धरने या पकड़ने की क्रिया, ठहराव): धृति शब्द के इकारान्त स्त्रील्लिङ्ग शब्द के शब्द रूप, धृति (Dhrati) शब्द के अंत में “इ” की मात्रा का...Read more !

एतद् / एतत् (यह) नपुंसकलिंग शब्द के रूप – Yah, Etad/Etat Napunsak Ling ke roop – Sanskrit

एतद् / एतत् नपुंसकलिंग शब्द के रूप एतद् / एतत् पुल्लिंग शब्द (This, यह): एतद् / एतत् (वह) नपुंसकलिंग सर्वनाम, नपुंसकलिंग में प्रथमा और द्वितीया को छोडकर शेष सभी शब्द...Read more !

मनु शब्द के रूप – Manu Ke Shabd Roop – Sanskrit

Manu Shabd मनु शब्द (मनु हिन्दू मान्यताओं व पौराणिक ग्रन्थ महा-भारत के अनुसार ये ब्रह्मा के पुत्र और मनुष्यों के मूल रूप थे): मनु शब्द के उकारांत पुल्लिंग शब्द के...Read more !

किम् (क्या/कौन) स्त्रीलिंग शब्द के रूप – Kim Striling ke roop – Sanskrit

किम् स्त्रीलिंग शब्द के रूप किम् स्त्रीलिंग शब्द (क्या/कौन, Who/What): किम् (क्या/कौन) स्त्रीलिंग सर्वनाम, यदादि – यद्, तद्, एतद्, किम् – इन शब्दों का क्रमशः य: , स: , एष:...Read more !

जनक शब्द के रूप – Janak ke Roop – Sanskrit

जनक के शब्द रूप जनक शब्द: अकारांत पुंल्लिंग शब्द , इस प्रकार के सभी अकारांत पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। जनक के रूप –...Read more !