पुरुष – परिभाषा, भेद एवं उदाहरण : हिन्दी व्याकरण, Purush in hindi

पुरुष की परिभाषा:

वे व्यक्ति जो संवाद के समय भागीदार होते हैं, उन्हें पुरुष कहा जाता है।

  • जैसे: मेरा नाम सचिन है।

इस वाक्य में वक्ता(सचिन) अपने बारे में बता रहा है। वह इस संवाद में भागीदार है एवं श्रोता भी।

पुरुष के प्रकार purush ke prakar

हिन्दी में तीन पुरुष होते हैं-

  • उत्तम पुरुष- मैं, हम
  • मध्यम पुरुष – तुम, आप
  • अन्य पुरुष- वह, राम आदि
Purush Ke Prakar

1. उत्तम पुरुष

यह वक्ता खुद होता है। वक्ता मैं, मुझे, मुझको, मेरा, मेरी आदि शब्दों का खुद के बारे में बताने के लिए करता है।

उत्तम पुरुष के कुछ उदाहरण:-

  • मैं खाना खाना चाहता हूँ।
  • मेरा नाम विकास है।
  • मैं दिल्ली में रहता हूँ।
  • मैं जयपुर जा रहा हूँ।
  • मैं दिन में तीन बार खाना खाता हूँ।
  • मेरे बहुत सारे दोस्त हैं।
  • मुझे स्कूल जाना पसंद है।
  • मेरे परिवार में चार सदस्य हैं।
  • मेरा घर मुंबई में है।
  • मेरे पापा बहुत अच्छे हैं।
  • मुझको बरसात पसंद है।
  • मुझको बारिश में भीगना पसंद नहीं है।

ऊपर दिए गए वाक्यों में वक्ता ‘मैं’,’मेरे’,’मुझे’, ‘मुझको’ आदि शब्दों का प्रयोग करके खुद के बारे में बता रहा है। अतः ये शब्द उत्तम पुरुष की श्रेणी में आयेंगे।

2. मध्यम पुरुष

मध्यम पुरुष श्रोता होता है जिससे वक्ता बात करता है। वक्ता श्रोता के लिए आप, तुम, तुमको, तुझे, तू आदि शब्दों का प्रयोग करता है।

मध्यम पुरुष के कुछ उदाहरण: 

  • मैं आपको कुछ दिखाना चाहता हूँ। 
  • तुम मुझे पसंद हो। 
  • तुमको किसी दूसरी जगह जाना चाहिए। 
  • जो मैंने तुझे कहा था वही करना है। 
  • तू बोलता है तो ठीक ही होगा। 
  • आप आज ठीक नहीं लग रहे। 
  • आजकल आप कहाँ रहते हैं ? 
  • तुम क्या कर रहे हो?
  • तुम जब तक आये तब तक वह चला गया। 
  • आप बाज़ार से सामान लेकर आओ।

ऊपर दिए वाक्यों में वक्ता ने ‘आपको’, ‘तुम’, ‘तुमको’, ‘तुझे’, ‘तू’, ‘आप’ आदि शब्द श्रोता के लिए किये हैं। अतः ये शब्द मध्यम पुरुष की श्रेणी में आते हैं।

3. अन्य पुरुष

अन्य पुरुष वह होता है जिस तीसरे आदमी के बारे में श्रोता और वक्ता बात करते है। यह, वह, ये, वे, आदि शब्द तेस्सरे व्यक्ति के बारे में बताने के लिए किये जाते हैं।

अन्य पुरुष के उदाहरण:

  • वह फुटबॉल बहुत अच्छा खेलता है। :
  • मैंने आपको बताया था वह पढाई में नहुत तेज़ है।
  •  वह अमेरिका जाने के सपने देख रहा है। 
  • उसका सपना एक दिन पूरा होगा। 
  • इनकी तुममे कोई रूचि नहीं है। 
  • इन्हें बाहर का रास्ता दिखादो।

ऊपर दिए गए वाक्यों में वक्ता ‘वह’, ‘उसका’, ‘इन्हें’ आदि शब्द प्रयोग करके किसी तीसरे व्यक्ति के बारे में श्रोता को बता रहा है। अतः ये शब्द्द अन्य पुरुष की श्रेणी में आयेंगे।

अन्य लेख पढ़ें:

हिन्दी व्याकरण

भाषा
वर्ण
शब्द
पद
वाक्य
संज्ञा
सर्वनाम
विशेषण
क्रिया
क्रिया विशेषण
समुच्चय बोधक
विस्मयादि बोधक
वचन
लिंग
कारक
पुरुष
उपसर्ग
प्रत्यय
संधि
छन्द
समास
अलंकार
रस
श्रंगार रस
विलोम शब्द
पर्यायवाची शब्द
अनेक शब्दों के लिए एक शब्द

Subject Wise Study :
Click Here

You may like these posts

अनेकार्थी शब्द, Anekarthak Shabd in Hindi – हिन्दी व्याकरण

अनेकार्थक शब्द अनेकार्थक शब्द का अभिप्राय है, किसी शब्द के एक से अधिक अर्थ होना। बहुत से शब्द ऐसे हैं, जिनके एक से अधिक अर्थ होते हैं। ऐसे शब्दोँ का अर्थ...Read more !

अनुप्रास अलंकार – परिभाषा, भेद एवं उदाहरण – hindi, sanskrit

अनुप्रास अलंकार अनुप्रास शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है – अनु + प्रास। यहाँ पर अनु का अर्थ है- बार -बार और प्रास का अर्थ होता है – वर्ण।...Read more !

समास – परिभाषा, भेद और उदाहरण- Samas In Hindi

Samas (समास) समास (Samas In Hindi): समास का तात्पर्य है ‘संक्षिप्तीकरण’। हिन्दी व्याकरण में समास का शाब्दिक अर्थ होता है छोटा रूप; अर्थात जब दो या दो से अधिक शब्दों...Read more !