मसि शब्द के रूप – Masi Ke Shabd Roop – Sanskrit

Masi Shabd

मसि शब्द (स्याही, रोशनाई): मसि शब्द के इकारांत पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप, अर्थात मसि (Masi) शब्द के अंत में “इ” की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह इकारांत हैं। अत: Masi Shabd के Shabd Roop की तरह इसके जैसे सभी इकारांत पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। मसि शब्द के शब्द रूप संस्कृत में सभी विभक्तियों एवं तीनों वचन में शब्द रूप (Masi Shabd Roop) नीचे दिये गये हैं।

मसि के शब्द रूप – Shabd roop of Masi

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा मसिः मसी मसयः
द्वितीया मसिम् मसी मसीन्
तृतीया मसिना मसिभ्याम् मसिभिः
चतुर्थी मसये मसिभ्याम् मसिभ्यः
पंचमी मसेः मसिभ्याम् मसिभ्यः
षष्ठी मसेः मस्योः मसीनाम्
सप्तमी मसौ मस्योः मसिषु
सम्बोधन हे मसे ! हे मसी ! हे मसयः !

महत्वपूर्ण शब्द रूप एवं धातु रूप

उपर्युक्त शब्द रूप मसि शब्द के इकारांत पुल्लिंग शब्द के शब्द रूप हैं मसि जैसे शब्द रूप (Masi shabd Roop) देखने के लिए Shabd Roop List पर जाएँ।

Related Posts

अहन् शब्द के रूप – Ahan Ke Roop, Shabd Roop – Sanskrit

Ahan Shabd अहन् शब्द (दिन, day): अन् भागान्त शब्द , इस प्रकार के सभी अन् भागान्त शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। संस्कृत व्याकरण एवं भाषा...Read more !

अमर शब्द के रूप – Amar Ke Shabd Roop – Sanskrit

Amar Shabd अमर शब्द (न मरने वाला- अविनाशी): अमर शब्द के अकारान्त नपुंसकलिंग शब्द के शब्द रूप, अमर (Amar) शब्द के अंत में “अ” की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए...Read more !

दुन्दुभि शब्द के रूप – Dundubhi Ke Shabd Roop – Sanskrit

Dundubhi Shabd दुन्दुभि शब्द (नगाड़ा, ढोल): इकारांत पुल्लिंग शब्द, इस प्रकार के सभी इकारांत पुल्लिंग शब्दों के शब्द रूप (Shabd Roop) इसी प्रकार बनाते है। दुन्दुभि के शब्द रूप इस...Read more !

ग्लौ शब्द रूप – Glau ke roop – Sanskrit

ग्लौ शब्द के रूप ग्लौ शब्द (चन्द्रमा/कपूर): औकारांत पुल्लिंग संज्ञा, सभी औकारांत पुल्लिंग संज्ञापदों के शब्द रूप इसी प्रकार बनाते है। ग्लौ के शब्द रूप – Glau Shabd Roop विभक्ति...Read more !

स्रज् (स्रक) शब्द के रूप (Sraj Ke Shabd Roop) – संस्कृत

Sraj Shabd स्रज् शब्द (स्रक्): स्रज् शब्द के जकारान्त स्त्रीलिंग शब्द के शब्द रूप, स्रज् (Sraj) शब्द के अंत में ‘ज्’ की मात्रा का प्रयोग हुआ इसलिए यह जकारान्त हैं।...Read more !