UPTET Junior Level Syllabus in Hindi – UPTET Second Paper

UPTET JUNIOR LEVEL SYLLABUS

UPTET JUNIOR LEVEL SYLLABUS

UPTET उत्तर प्रदेश शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित कराई जाने वाली एक राज्य स्तरीय परीक्षा है जिसके माध्यम से स्कूलों में प्राइमरी (कक्षा 6 से 8 तक) के लिए टीचर्स की भर्ती होती है। उत्तर प्रदेश के सरकारी विद्यालयों में शिक्षक के रूप में काम करने के इच्छुक उम्मीदवार के लिए UPTET की परीक्षा बहुत महत्वपूर्ण होती है।

इस परीक्षा में दो पेपर होते हैं (पेपर 1 और पेपर 2). उत्तर प्रदेश के सरकारी स्कूलों में कक्षा 6 से 8 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों को UPTET Paper II पास करना ज़रूरी होता है। इस परीक्षा को पास करने के लिए यूपीटीईटी सिलेबस और परीक्षा पैटर्न समझना ज़रूरी है।

UPTET SYLLABUS PAPER – 2

परीक्षा का कठिनाई स्तर:

  • इंटरमीडिएट स्तर (विज्ञान और गणित को छोड़कर)
  • विज्ञान और गणित डी एल एड (बी टी सी) पाठ्यक्रम के अनुसार

पेपर।। (कक्षा VI से VIII के लिए) उच्च प्राथमिक स्तर-

1. बाल विकास और अध्यापन [30 प्रश्न]

(क) बाल विकास (कक्षा 6 से 8, 11 से 14 आयु समूह के लिए प्रासंगिक) [15 प्रश्न]

  • विकास की अवस्था तथा अधिगम से उसका संबंध
  • बालक के विकास के सिद्धांत।
  • आनुवांशिकता और पर्यावरण का प्रभाव सामाजिकीकरण दबाव: सामाजिक विश्व और बालक (शिक्षक, अभिभावक और मित्रगण)
  • पाइगेट, कोलबर्ग और वायगोट्स्की : निर्माण और विवेचित संदर्श
  • बाल-केन्द्रित और प्रगामी शिक्षा की अवधारणाएं

(ख) बौद्धिकता के निर्माण का विवेचित संदर्श 10 प्रश्न

  • बहु-आयामी बौद्धिकता
  • भाषा और चिंतन
  • समाज निर्माण के रूप में लिंग: लिंग भूमिकाएं. लिंग-पूर्वाग्रह और शैक्षणिक व्यवहार शिक्षार्थियों के मध्य वैयक्तिक विभेद, भाषा, जाति, लिंग, समुदाय, धर्म आदि की विविधता पर आधारित विभेदों को समझना।
  • अधिगम के लिए मूल्यांकन और अधिगम के मूल्यांकन के बीच अंतर, विद्यालय आधारित मूल्यांकन, सतत एवं व्यापक मूल्यांकन, संदर्श और व्यवहार।

(ग) अधिगम और अध्यापन [10 प्रश्न]

  • शिक्षार्थियों की तैयारी के स्तर के मूल्यांकन के लिए, कक्षा में शिक्षण और विवेचित चिंतन के लिए तथा शिक्षार्थी की उपलब्धि के लिए उपयुक्त प्रश्न तैयार करना।

2. भाषा I [30 प्रश्न]

(क) भाषा बोधगम्यता [15 प्रश्न]

  • अनदेखे अनुच्छेदों को पढ़ना – दो अनुच्छेद एक गद्य अथवा नाटक और एक कविता जिसमें बोधगम्यता, निष्कर्ष, व्याकरण और मौखिक योग्यता से संबंधित प्रश्न होंगे (गद्य अनुच्छेद साहित्यिक, वैज्ञानिक, वर्णनात्मक अथवा तर्कमूलक हो सकता है)

(ख) भाषा विकास का अध्यापन [15 प्रश्न]

  • अधिगम अर्जन
  • भाषा अध्यापन के सिद्धांत
  • सुनने और बोलने की भूमिका, भाषा का कार्य तथा बालक इसे किस प्रकार एक उपकरण के रूप में प्रयोग करते हैं। मौखिक और लिखित रूप में विचारों के संप्रेषण के लिए किसी भाषा के अधिगम में व्याकरण की भूमिका पर विवेचित संदर्श
  • एक भिन्न कक्षा में भाषा पढ़ाने की चुनौतियां: भाषा की कठिनाइयां, त्रुटियां और विकार
  • भाषा कौशल
  • भाषा बोधगम्यता और प्रवीणता का मूल्यांकन करना : बोलना, सुनना, पढ़ना और लिखना
  • अध्यापन – अधिगम सामग्रियां: पाठ्यपुस्तक, मल्टी मीडिया सामग्री, कक्षा का बहुभाषायी संसाधन
  • उपचारात्मक अध्यापन

3. भाषा – II [30 प्रश्न]

(क) बोधगम्यता [15 प्रश्न]

  • दो अनदेखे गद्य अनुच्छेद (तर्कमूलक अथवा साहित्यिक अथवा वर्णनात्मक अथवा वैज्ञानिक) जिनमें बोधगम्यता, निष्कर्ष, व्याकरण और मौखिक योग्यता से सम्बन्धित प्रश्न होंगे।

(ख) भाषा विकास का अध्यापन [15 प्रश्न]

  • अधिगम और अर्जन
  • भाषा अध्यापन के सिद्धांत
  • सुनने और बोलने की भूमिका, भाषा का कार्य तथा बालक इसे किस प्रकार एक उपकरण के रूप में प्रयोग करते हैं
  • मौखिक और लिखित रूप में विचारों के संप्रेषण के लिए किसी भाषा के अधिगम में व्याकरण की भूमिका पर विवेचित संदर्श
  • एक भिन्न कक्षा में भाषा पढ़ाने की चुनौतियां भाषा की कठिनाईयां, त्रुटियां और विकार
  • भाषा कौशल
  • भाषा बोधगम्यता और प्रवीणता का मूल्यांकन करना: बोलना, सुनना, पढ़ना और लिखना
  • अध्यापन- अधिगम सामग्री: पाठ्यपुस्तक, मल्टीमीडिया सामग्री, कक्षा का बहुभाषायी संसाधन
  • उपचारात्मक अध्यापन

4. गणित एवं विज्ञान [60 प्रश्न]

(A) गणित [30 प्रश्न]

(क) विषय-वस्तु [20 प्रश्न]-

अंक प्रणाली:

  • अंकों को समझना
  • अंकों के साथ खेलना
  • पूर्ण अंक
  • नकारात्मक अंक और पूर्णाक
  • भिन्न

बीजगणित:

  • बीजगणित का परिचय
  • समानुपात और अनुपात

ज्यामिति:

  • मूलभूत ज्यामितिक विचार (2-डी)
  • बुनियादी आकारों को समझना
  • सममिति।
  • निर्माण (सीधे किनारे वाले मापक, कोणमापक, परकार का प्रयोग करते हुए)

क्षेत्रमिति:

  • आंकड़ा प्रबंधन

(ख) अध्यापन संबंधी मुद्दे [10 प्रश्न]-

  • गणितीय/तार्किक चिंतन की प्रकृति
  • पाठ्यचर्या में गणित का स्थान
  • गणित की भाषा
  • सामुदायिक गणित
  • मूल्यांकन
  • उपचारात्मक शिक्षण
  • शिक्षण की समस्याएं

(B) विज्ञान [30 प्रश्न]

(क) विषय-वस्तु [20 प्रश्न]-

  • भोजन
  • भोजन के स्रोत
  • भोजन के घटक
  • भोजन को साफ करना
  • सामग्री
  • दैनिक उपयोग की सामग्री
  • जीवित प्राणियों की दुनिया
  • चीजें, लोगों और विचारों को स्थानांतरित करना
  • चीज़ें कैसे काम करती है
  • इलेक्ट्रिक सर्किट
  • चुंबक
  • प्राकृतिक घटना
  • प्राकृतिक संसाधन

(ख) अध्यापन संबंधी मुद्दे [10 प्रश्न]-

  • विज्ञान की प्रकृति और संरचना
  • प्राकृतिक विज्ञान/लक्ष्य और उद्देश्य
  • विज्ञान को समझना और उसकी सराहना करना
  • दृष्टिकोण/एकीकृत दृष्टिकोण प्रेक्षण/प्रयोग/अन्वेषण (विज्ञान की पद्धति)
  • अभिनवता
  • पाठ्यचर्या सामग्री/सहायता-सामग्री
  • मूल्यांकन – संज्ञात्मक/मनोप्रेरक/प्रभावन
  • समस्याएं
  • उपचारात्मक शिक्षण

अन्य महत्वपूर्ण प्रष्ठ:

Related Posts

UPTET 2018 में आपत्ति करने योग्य प्रश्न ?? Primary Level, Junior Level

Home ⇢ Genaral ⇢ UPTET 2018 Wrong Questions प्राथमिक स्तर उत्तरमाला उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 में आपत्ति करने योग्य प्रश्न ? समय बहुत कम है हमे आपत्ति दर्ज...Read more !

Hight School Result – UP Board Result

High School High School: High School is Higher Secondary Level of Study. Board of High School and Intermediate Education Uttar Pradesh (माध्यमिक शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश) is the Uttar Pradesh...Read more !

UP Assistant Teacher Exam Pattern 2018

UP Assistant Teacher Syllabus, Exam Pattern 2018 for Written Exam! परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापकों के रिक्त पदों पर नियुक्ति के संबंध में शिक्षक भर्ती परीक्षा की विषय वस्तु:-...Read more !

How To fill UPTET 2022 Online Form ?

UPTET 2022 Online Form Exam Regulation Authority of Uttar Pradesh, Allahabad उत्तर प्रदेश, इलाहाबाद की परीक्षा विनियमन प्राधिकरण उत्तर प्रदेश शिक्षक योग्यता UPTET अक्टूबर परीक्षा जारी है। वे उम्मीदवार यूपीटीईटी...Read more !

UPTET Syllabus: 2022-23

UPTET 2022-23 की तैयारी के लिए ये Syllabus और Exam Pattern बहुत महत्वपूर्ण है। वर्तमान में UPTET की यह Exam बर्ष में एक बार आयोजित की जाती है। परंतु कुछ...Read more !