सरीसृप जीव जन्तुओ के नाम, शब्द हिन्दी, संस्कृत और अङ्ग्रेज़ी में – Sarisrip Jeevon Ke Naam – List and Table

Sarisrip Jeevon Ke Naam - List and Table

सरीसृप जीव जन्तुओ के नाम, शब्द: इस प्रष्ठ में सरीसृप जीव जन्तुओ के नाम(शब्द) और उनके बारे में हिन्दी, संस्कृत और अङ्ग्रेज़ी में जानकारी दी जाएगी। साँप, छिपकली, कछुआ को संस्कृत में क्या कहते हैं, ऐसा कोई पूछ ले तो उत्तर देना मुश्किल होगा, लेकिन पहली बार Sarisrip Jeevon के संस्कृत में नाम के बारे में जानने का अवसर संस्कृत हिन्दी और अङ्ग्रेज़ी सहित हम आपको मुहैया करा रहे है।

सरीसृप जीव जन्तुओ के नाम(Sarisrip Jeevon Ke Naam) हिन्दी, संस्कृत और अङ्ग्रेज़ी में

अङ्ग्रेज़ी हिन्दी संस्कृत
Adder एक छोटा विषैला यूरेशियन साँप पृदाकु
Alligator घड़ियाल नक्रः, ग्राहः, घण्टिक
Anaconda एनाकोंडा (अजगर परिवार का एक अर्ध-जलीय बङा अविषैला सांप) अजगर
Boa अजगर अजगर
Chameleon गिरगिट कृकलास, क्रकचपद्
Cobra विषैला साँप नाग, फणिन्, कृष्णसर्प
Crocodile मगरमच्छ, घड़ियाल मकर, मकराति
Gecko निशाचरी छिपकली गृहगोधिका
Gharial एक लंबे और संकरे थूथन वाला मगरमच्छ/घड़ियाल नक्रः, ग्राहः, घण्टिक
Iguana गोधा गोधा, गोह
Indian Spectacled Cobra भारतीय कोबरा सांप कालभोगिन्
King Cobra कोबरा सांप महाविष, कालभोगिन्
Lizard छिपकली गृहगोधिका
Python अजगर अजगर
Rattlesnake एक विषधर साँप सर्प
Snake साँप सर्प
Tortoise कछुआ कच्छप
Turtle कुर्म, कछुआ डुलि, कच्छप
Tuatara न्यूजीलैंड की छिपकली गृहगोधिका
Viper साँप, सर्प भुज्यु, पृदाकु

सरीसृप क्या है?

परिभाषा – रेंगकर चलने वाला असमतापी कशेरुकी जीवों को सरीसृप कहते हैं।
उदाहरण – साँप, छिपकली, कछुआ आदि सरीसृप जीव हैं ।
अन्य नाम – सरीसृप जन्तु , सरीसृप जन्तु , सरीसृप
एक तरह का कशेरुकी जन्तु, प्रकार – मगर , गोह , केकड़ा , साँप , नक्र घड़ियाल , कछुआ , साँपिन।

You may like these posts

जश्त्व संधि – Jashtva Sandhi, झलाम् जशोऽन्ते

जश्त्व संधि जश्त्व संधि का सूत्र झलाम् जशोऽन्ते होता है। यह संधि व्यंजन संधि के भागो में से एक है। संस्कृत में व्यंजन संधियां कई प्रकार की होती है। इनमें...Read more !

हिन्दी की बोलियां – उपभाषा और उनका बोली क्षेत्र – Hindi ki Upbhasha

हिन्दी की बोलियां हिन्दी विशाल भू-भाग की भाषा होने के कारण इसकी अनेक बोलियाँ अलग-अलग क्षेत्रों में प्रयुक्त होती हैं। जिनमें से अवधी, ब्रजभाषा, कन्नौजी, बुंदेली, बघेली, हड़ौती, भोजपुरी, हरयाणवी,...Read more !

संदेह और भ्रांतिमान अलंकार युग्म में अंतर

संदेह और भ्रांतिमान जहां समानता के कारण अनिश्चय की स्थिति बनी रहती है वहां सन्देह अलंकार होता है। यथा- कैघों व्योम बीथिका भरे हैं भूरि धूमकेतु वीर रस वीर तरवारि...Read more !