भाषा और लिपि – भाषा और लिपि में अंतर

भाषा और लिपि

मौखिक भाषा या उच्चारित भाषा को स्थायी रूप देने के लिए भाषा के लिखित रूप
का विकास हुआ। प्रत्येक ध्वनि के लिए लिखित चिह्न या वर्ण बनाए गए। वर्षों की इसी
व्यवस्था को ‘लिपि’ कहा जाता है। वास्तव में लिपि ध्वनियों को लिखकर प्रस्तुत करने का
एक ढंग है। सभ्यता के विकास के साथ-साथ मनुष्य के लिए अपने-अपने भावों और
विचारों को स्थायित्व देना, दूर-दूर स्थित लोगों से सम्पर्क बनाए रखना तथा संदेशों और
समाचारों के आदान-प्रदान के लिए मौखिक भाषा से काम चला पाना असम्भव हो गया।
अनुभव की गई यह आवश्यकता ही लिपि के विकास का कारण बनी।

मौखिक ध्वनियों को लिखित रूप में प्रकट करने के लिए निश्चित किए गए चिह्नों
को लिपि कहते हैं।

संसार की विभिन्न भाषाओं को लिखने के लिए अनेक लिपियाँ प्रचलित हैं।
हिन्दी, मराठी, नेपाली और संस्कृत भाषाएँ देवनागरी लिपि में लिखी जाती हैं। देवनागरी
का विकास ब्राह्मी लिपि से हुआ है। ब्राह्मी वह प्राचीन लिपि है जिससे हिन्दी, बंगला,
गुजराती, आदि भाषाओं की लिपियों का विकास हुआ।

देवनागरी बाईं ओर से दाईं ओर को लिखी जाती है। यह बहुत ही वैज्ञानिक लिपि
है। भारत की अधिकांश भाषाओं की लिपियाँ बाईं ओर से दाईं ओर को ही लिखी जाती हैं।
केवल ‘फारसी’ लिपि जिसमें उर्दू भाषा लिखी जाती है, दाईं ओर से बाईं ओर को लिखी ।
जाती है।

भाषा और लिपि में अंतर

निम्न तालिका में विश्व की कुछ भाषाएँ और उनकी लिपियों के नाम दिए जा रहे है-

क्रमांक भाषा लिपि उदाहरण
1. हिन्दी देवनागरी बच्चे खेल रहे हैं।
2. संस्कृत देवनागरी बालकाः क्रीड़न्ति।
3. अंग्रेजी, फ्रेंच, पोलिश, जर्मन, स्पेनिश आदि। रोम, The Boys are Playing
4. मराठी, नेपाली * *
5. पंजाबी –गुरमुखी * *
6. उर्दू, अरबी, फारसी – फारसी * *
7. रूसी, बुल्गेरियन आदि रूसी । रूसी *

यों तो हर भाषा की अपनी लिपि होती है, किन्तु कोई भी भाषा किसी भी लिपि में
लिखी जा सकती है। हम हिन्दी को रोमन लिपि में और अंग्रेजी को देवनागरी में लिख
सकते हैं। जैसे-

  • मोहन किताब खरीद रहा है-Mohan Kitab Kharid raha hai.
  • John is going to Nepal-जॉन इज गोइंग टू नेपाल।
bhasha aur lipi - bhasha aur lipi mein antar

Related Posts

एकांकी और एकांकीकार – लेखक और रचनाएँ, हिन्दी

हिन्दी की एकांकी और एकांकीकार  हिन्दी की प्रथम एकांकी ‘जयशंकर प्रसाद’ द्वारा रचित “एक घूँट” है। एक अंक वाले नाटक को एकांकी कहा जाता है। हिन्दी में ‘एकांकी’ जो अंग्रेजी...Read more !

रेखाचित्र – रेखाचित्र क्या होता है?

रेखाचित्र हिन्दी में रेखाचित्र के पर्याय रूप में व्यक्ति चित्र, शब्द चित्र, शब्दांकन आदि शब्दों का प्रयोग भी होता है, परन्तु प्रायः विद्वान् इस विधा को रेखाचित्र नाम से अभिहित...Read more !

कालवाचक क्रियाविशेषण – परिभाषा, उदाहरण, भेद एवं अर्थ

परिभाषा कालवाचक क्रियाविशेषण  वे शब्द होते हैं जो हमें क्रिया के होने वाले समय का बोध कराते हैं, वह शब्द कालवाचक क्रियाविशेषण कहलाते हैं। यानी जब क्रिया होती है उस...Read more !

राजभाषा हिन्दी – राजभाषा हिन्दी के रूप

राजभाषा हिन्दी: हिन्दी हमारी राष्ट्रभाषा है। 14 सितम्बर, 1949 को भारतीय संविधान सभा ने हिन्दी को भारत संघ की राजभाषा के रूप में स्वीकार किया। भारत के संविधान में हिन्दी...Read more !

नयी कविता – जन्म, कवि, विशेषताएं – नयी कविता काव्य धारा

नयी कविता नयी कविता (1951 ई० से…): यों तो ‘नयी कविता’ के प्रारंभ को लेकर विद्वानों में विवाद है, लेकिन ‘दूसरे सप्तक’ के प्रकाशन वर्ष 1951 ई०से नयी कविता’ का...Read more !