राजस्थानी भाषा – राजस्थानी हिन्दी

राजस्थानी भाषा राजस्थानी भाषा या राजस्थानी हिन्दी– राजस्थानी हिन्दी सम्पूर्ण राजस्थान में, सिंध के कुछ प्रदेश में और मध्य प्रदेश के मालवा क्षेत्र में बोली जाती है। ब्रजभाषा के साहित्यिक...Read more !

मैथिली, मगही – बोली, भाषा – बिहारी हिन्दी

बिहारी हिन्दी बिहारी हिन्दी का विकास मागधी प्राकृत से हुआ है। यह पूर्वी उत्तर प्रदेश तथा बिहार क्षेत्र की भाषा है। कृतिपय विद्वान् बिहारी हिन्दी का सम्बन्ध बंगला से भी...Read more !

भोजपुरी बोली – भाषा, भोजपुरी हिन्दी

भोजपुरी यह उत्तर प्रदेश के बनारस, गाजीपुर, गोरखपुर, देवरिया, आजमगढ़ आदि तथा बिहार के चम्पारन, राँची आदि प्रदेशों में बोली जाती है। “भोजपुरी” शब्द का निर्माण बिहार का प्राचीन जिला...Read more !

अवधी, बघेली, छत्तीसगढ़ी – बोली, भाषा – पूर्वी हिन्दी

पूर्वी हिन्दी पूर्वी हिन्दी का विकास अर्धमागधी प्राकृत से हुआ है। पश्चिमी हिन्दी और भोजपुरी के बीच के क्षेत्र को पूर्वी हिन्दी का क्षेत्र माना जाता है। पूर्वी हिन्दी के...Read more !

कुमाउनी, गढ़वाली, मेवाती – पहाड़ी हिन्दी की बोलियाँ – हिन्दी भाषा

पहाड़ी हिन्दी पहाड़ी का विकास ‘खस’ प्राकृत से माना जाता है। सर जार्ज ग्रियर्सन ने इसे  ‘मध्य पहाड़ी’ नाम से सम्बोधित किया है। पहाड़ी हिन्दी कुमाऊँ और गढ़वाल प्रदेश की...Read more !

कन्नौजी – भाषा, बोली, वर्ग – कन्नौज, उत्तर प्रदेश

कन्नौजी कन्नौजी-यह कन्नौज प्रदेश की भाषा है। इसका क्षेत्र अत्यन्त सीमित है। यह कानपुर, पीलीभीत, शाहजहाँपुर, हरदोई आदि प्रदेशों में बोली जाती है। पश्चिम में यह ब्रज की सीमाओं का...Read more !

बुंदेली – बुंदेली बोली – बुंदेलखंडी भाषा, पश्चिमी हिन्दी

बुंदेली –  बुंदेलखंडी बुंदेली -बुंदेलखण्ड की भाषा को बुंदेली अथवा बुंदेलखण्डी कहा जाता है। चम्बल और यमुना नदियों तथा जबलपुर, रीवां और विन्ध्य पर्वत के बीच के प्रदेश को बुंदेलखण्ड कहा...Read more !

Braj Bhasha – ब्रजभाषा

ब्रजभाषा (Braj Bhasha) ब्रजभाषा का विकास शौरसेनी से हुआ है। ब्रजभाषा पश्चिमीहिन्दी की अत्यन्त समृद्ध एवं सरस भाषा है। साहित्य-जगत् में आधुनिक काल से पूर्वब्रजभाषा का ही बोलबाला था। ब्रजभाषा क्षेत्र- यह...Read more !

Dakhini – दक्खिनी, Dakhini language, Dakhini Urdu

दक्खिनी दक्खिनी-13-14वीं शताब्दी में जब दिल्ली के सुलतानों (मुहम्मद तुगलक) ने उत्तरी भारत के लोगों को दक्षिणी (दौलताबाद) में बसाया था तब उन लोगों के साथ उनकी भाषा भी दक्षिण...Read more !

हरियाणी बोली – haryanvi boli, खड़ी बोली में अंतर

हरियाणी बोली हरियाणी (haryanvi boli)- यह हिन्दी भाषा दिल्ली, करनाल, रोहतक, हिसार, पटियाला, नामा, जींद, पूर्वी हिसार आदि प्रदेशों में बोली जाती है। इस पर पंजाबी और राजस्थानी का पर्याप्त...Read more !